सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कमलनाथ के मंत्रियों का बड़ा दावा

भोपाल। सुप्रीम कोर्ट द्वारा शुक्रवार को फ्लोर टेस्ट कराने के आदेश के बाद सीएम कमलनाथ ने आनन फानन में विधायक दल की बैठक बुलाई है। इस फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए मंत्री जीतू पटवारी ने कहा है कि हम इसके लिये तैयार हैं। फैसले पर ज्यादा कुछ न बोलते हुए उन्होने कहा कि हम इसके लिये पहले से तैयार थे और ये बात मुख्यमंत्री कमलनाथ भी कह चुके हैं।फ्लोर टेस्ट पर फैसला आने के बाद मंत्री जीतू पटवारी ने बागी 16 विधायकों का पार्टी में स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि नाराज विधायकों हमारे साथ आए तो उनका स्वागत है। नहीं आए तो भी हम फ्लारे टेस्ट के लिए तैयार है।

मंत्री जीतू पटवारी ने दावा किया है कि विधानसभा में बहुमत परीक्षण में कांग्रेस की जीत होगी। इधर नेता प्रतिपक्ष ने भी बीजेपी की जीत का दावा किया है। फिलहाल अब शुक्रवार शाम 5 बजे पता चलेगा कि मध्य प्रदेश में कमलनाथ की सरकार बनी रहेगी या फिर बीजेपी सत्ता में वापसी करेगी।

वहीं जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि आगे की रणनीति विधायक दल की बैठक में तय की जाएगी लेकिन हम फ्लोर टेस्ट की बात ही कह रहे थे।इसी के साथ कांग्रेस के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि हम सफल नहीं हुए हैं और कल फ्लोर टेस्‍ट करवाया जाएगा।

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को कमलनाथ सरकार को बहुमत साबित करने के लिये कहा है। विधानसभा में फ्लोर टेस्ट मामले में गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा है कि शुक्रवार को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर शाम 5 बजे तक फ्लोर टेस्ट कराया जाए और बेंगलुरू में ठहरे विधायकों के इस फ्लोर टेस्ट में शामिल होने की कोई बाध्यता नहीं है। उन्हें आना है या नहीं ये उनकी इच्छा पर निर्भर होगा।