केन्द्र के प्लान से आत्मनिर्भर होगा किसान: कमल पटेल

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट
हलषष्टी और भगवान बलराम की जयंति के अवसर पर कृषि क्षेत्र के अधोसंरचना विकास के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा एक लाख करोड़ रुपए का विशेष फंड घोषित किए जाने पर राज्य के कृषि मंत्री कमल पटेल ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि इससे किसानों की आत्मनिर्भरता का मार्ग प्रशस्त होगा।

कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि हलछठ और दाऊ जन्मोत्सव किसानों का बड़ा त्यौहार है। उन्होंने कहा कि इस बेहद पावन अवसर पर देश में कृषि से जुड़ी सुविधाएं तैयार करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एक लाख करोड़ रुपए का विशेष फंड लॉन्च किया है। इससे गांवों-गांवों में बेहतर भंडारण, आधुनिक कोल्ड स्टोरेज की चेन तैयार करने में मदद मिलेगी और गांव में रोज़गार के अनेक अवसर तैयार होंगे। किसान अब मजबूर नहीं और मजबूत होंगे अब कानून बनाकर किसान को मंडी के दायरे से और मंडी टैक्स के दायरे से मुक्त कर दिया गया।

किसानों के पास अनेक विकल्प
कृषिमंत्री ने कहा अब किसान के पास अनेक विकल्प हैं अब किसान अपने खेत, खलिहान, घर से अपनी फसलों का सौदा कर सकता है। किसान के पास फसलों के भंडारण, कोल्ड स्टोरेज की सुविधा गांव में ही होगी, वह फूड प्रोसेसिंग यूनिट लगाकर अपनी उपज से ज्यादा लाभ कमा सकेंगे इसके लिए किसानों की दस हजार समितियां बनाई जाएंगी।

किसानों को आत्मनिर्भर बनाने में मिलेगी मदद
कमल पटेल ने कहा कि इसके साथ-साथ साढ़े 8 करोड़ किसान परिवारों के खाते में, पीएम किसान सम्मान निधि के रूप में 17 हज़ार करोड़ रुपए ट्रांसफर किये गये हैं, इससे किसानों को आत्मनिर्भर बनाने में मदद मिलेगी, आने वाले समय में आत्मनिर्भर किसान आत्मनिर्भर भारत का सपना सकार करेंगे। कमल पटेल ने कहा कि केन्द्र सरकार और मध्यप्रदेश सरकार किसानों की सरकार है, बलराम जयंती के अवसर पर पर हम किसानों के हित में सतत प्रयत्नशील रहने का संकल्प लेते हैं, इससे बलराम जयंती और हलछठ पर्व की सार्थकता होगी। कमल पटेल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का राज्य के किसानों की ओर से आभार प्रकट किया है।