कमलनाथ का सवाल- क्या बीजेपी नेताओं की पत्नियां गहने बेचकर उठा रही है चुनावी खर्च

kamalnath-said--are-the-wives-of-bjp-leaders-selling-their-jewelry-for-election-expense

भोपाल।

लोकसभा चुनाव से पहले बयानबाजी का दौर तेजी से चल रहा है। राजनैतिक दल एक दूसरे पर जमकर हमले बोल रहे है। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के बीजेपी पर आम चुनाव में वोट खरीदने के लिए पैसे बांटने के आरोप के बाद अब मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ ने पीएम और बीजेपी नेताओं के चुनावी खर्चे को लेकर सवाल उठाए है और बडा ही विवादित बयान दिया है।

सीएम कमलनाथ ने प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी नेताओं के चुनावी खर्च को लेकर सवाल पूछा है । उन्होंने कहा कि  मैं नरेंद्र मोदी से पूछना चाहता हूं कि उनकी हवाई यात्राओं, मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव के लिए उनकी पार्टी के पास पैसा कहां से आ रहा है। मोदी जी जो हवाई जहाज में जाते हैं, इसका खर्चा कहां से आता है? क्या बीजेपी नेताओं की पत्नियां अपने जेवर बेचकर चुनाव का खर्च उठ रही हैं। वही उन्होंने पूर्व शिवराज को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कहा कि मोदी और शिवराज को एटीएम का बहुत तजुर्बा है।

नाथ यही नही रुके उन्होंने आगे कहा कि इन बातों का जवाब बीजेपी का कोई नेता नहीं देगा, दिल्ली में जो बीजेपी ने 100 करोड़ रुपए की लागत से दफ्तर बनवाया है। आखिर ये पैसा बीजेपी के पास कहां से आया?यह पहली बार नहीं है जब कमलनाथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला हो। इससे पहले कमलनाथ ने कहा था कि प्रधानमंत्री बताएं कि 700 करोड़ में तैयार हुए भाजपा के दफ्तर के लिए पैसा कहां से आया।

गौरतलब है कि चुनाव से पहले पीएम मोदी के खर्च को लेकर बार बार सवाल उठ रहे है।अभी हाल ही में पश्चिम बंगाल की सीएम और तृणमूल कांग्रेस चीफ ममता बनर्जी ने बीजेपी पर आम चुनाव में वोट खरीदने के लिए पैसे बांटने का आरोप लगाया था। साथ ही ये भी कहा है कि उनकी पार्टी चुनाव आयोग से पीएम मोदी की रैली में हुए खर्च का ब्योरा मांगने का आग्रह करेगी। इससे पहले आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने भी पीएम मोदी के चुनाव खर्च पर सवाल उठाए थे। सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा था कि पीएम नरेंद्र मोदी के वाराणसी सीट पर नामांकन और उससे पूर्व हुए रोड शो में 1 करोड़ 27 लाख रुपये खर्च किए गए जो कि प्रचार की तय सीमा से अधिक थे। सिंह ने इस संबंध में वाराणसी में आचार संहिता उल्लंघन की एक शिकायत भी दर्ज कराई।