कमलनाथ की दो टूक-शिवराज सरकार बाज आए वरना कांग्रेस चुप नही बैठेगी

भोपाल।
एक तरफ रेल की पटरियों पर स्पेशल एसी ट्रेनें फर्राटा भर रही हैं, दूसरी तरफ सड़क पर घर जाने की आस लिए मजदूर सड़कों पर मारे मारे फिर रहे है ,ऐसे में कई हादसे के शिकार हो रहे है तो कई भूख से तड़प रहे है।मजदूरों की ऐसी हालात पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ(Former Chief Minister Kamal Nath) चिंता जाहर की है और शिवराज सरकार(Shivraj government) को चेतावनी दी है कि मजदूरों को लाने एवं गरीबों तक राशन-पानी पहुंचाने में भाजपा सरकार(bjp) पूरी तरह फेल साबित हुई है।दोहरी मानसिकता व दोहरे चरित्र से काम कर रही भाजपा सरकार अगर बाज नहीं आई तो कांग्रेस मज़दूरों के हितो की लड़ाई को लड़ने के लिये हर कदम उठायेगी , वो चुप नहीं बैठेगी।

नाथ ने कहा कि प्रदेश के मजदूरों के साथ शिवराज सरकार ने जो अमानवीयता की है उससे पूरा प्रदेश , देश में शर्मशार हुआ है। औरंगाबाद में मध्य प्रदेश के निर्दोष 16 मजदूरों की ट्रेन से कट जाने से मौत हो जाने के बाद भी शिवराज सरकार अभी तक नहीं जागी है और आज भी लाखों मजदूर प्रदेश की सीमा पर भूखे प्यासे अपने घर पहुंचने के लिए तरस रहे हैं। अलोकतांत्रिक तरीके से सरकार हथियाने के आज 52 दिन पूरे हो गए हैं लेकिन मुख्यमंत्री बनने के बाद शिवराज सिंह ने सिर्फ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग , विज्ञापन व झूठे प्रचार का काम मात्र किया है।

नाथ ने कहा कि प्रदेश के मजदूरों को लाने के लिए जो भी घोषणाएँ अभी तक की है ,वह सभी झूठी साबित हुई है।आज भी मजदूर हजारों किलोमीटर पैदल चलकर भी अपने घर पहुंच नहीं पा रहे हैं।वे भूखे प्यासे ,नंगे पैर ,नंगे बदन ,भीषण लू व तपती धूप में अपने मासूम बच्चों को साथ लेकर पैदल चलने को मजबूर हैं।अपने दिखावटी आयोजनों के लिए हज़ारों बसे एकत्रित कर लेने वाली भाजपा सरकार मजदूरों के लिए वाहन तक का इंतजाम नहीं कर पा रही है , इससे शर्मनाक कुछ नहीं हो सकता है।

नाथ ने कहा कि एक और सरकार गरीब मजदूरों की मदद नहीं कर रही है वहीं दूसरी ओर जब कांग्रेस के जनप्रतिनिधि अपने साधन- संसाधनों से मजदूरों की समस्याओं के लिए सामने आते हैं तो उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाता है , उनके खिलाफ कार्रवाई कर दी जाती है।हमारी पार्टी के विधायक महेश परमार ,महेश चावला व देवास कांग्रेस के अध्यक्ष मनोज राजानी पर इसी तरह की दमन पूर्ण कार्रवाई की गयी।वहीं भाजपा के जनप्रतिनिधि कोरना महामारी के प्रोटोकाल का सरेआम उल्लंघन कर सरकारी राशन बांट रहे हैं , पूरा शासन -प्रशासन भाजपा के इशारों पर चल उनके कार्यकर्ताओं को लॉकडाउन में भी खुली छूट प्रदान कर रहा है।

——————————-