भोपाल।
सत्ता से हटने के बाद प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को किसानों को चिंता सताने लगी है, इसी के चलते वे लगातार मुख्यमंत्री शिवराज को एक के बाद एक पत्र लिखकर नई नई मांग कर रहे है। अब एक बार फिर ‪पूर्व मुख्यमंत्री एवं मप्र कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज को पत्र लिखकर गेहूं उपार्जन की राशि से कर्जवसूली तत्काल रोकने की मांग की है।नाथ का कहना है कि ‪कोरोना से उत्पन्न परिस्थितियों में किसान भाईयों को सहयोग एवं राहत की आवश्यकता है।‬

पूर्व मंत्री कमलनाथ ने कहा समर्थन मूल्य पर उपार्जन केंद्रों पर गेहूं की खरीदी की जा रही है उसमें सहकारी समिति के द्वारा ऋण राशि की वसूली भी की जा रही है। अत्यत विलंब के पश्चात यह खरीदी प्रारंभ हो पाई है अब प्रतिदिन कुछ किसान भाई से ही खरीदी हो रही है। अपने फसल बेचने के लिए अनेक किसान भाई को इंतजार करना पड़ रहा है। जब कुछ राशि मिलने की स्थिति बन रही है तो समिति स्तर पर कटौती की जा रही है। जिससे किसानों में रोष व्याप्त है। ऐसी स्थिति में किसान भाइयों को सहयोग एवं राहत की आवश्यकता है। इसलिए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अनुरोध किया है कि कृपया तत्काल इस विषय पर ध्यान देकर किसान की ऋण कि राशि की वसूली ना कि जाने के संबंध में कोई उचित निर्णय लें।

किसानों को लेकर चिंतित कमलनाथ, अब शिवराज से की ये मांग