भाजपा सांसद के इस्तीफा देने की अटकलें तेज, कांग्रेस के हारे प्रत्याशी हुए सक्रिय

kantilal-bhuria-start-campaign-in-ratlam-loksabha

भोपाल। मध्य प्रदेश में बीजेपी रतलाम झाबुआ लोकसभा सीट जीतने के बाद पशोपेश में है। महज चार दिने बचे हैं यह निर्णय लेने में कि पार्टी इस सीट से जीते प्रत्याशी जीएस डामोर को विधायक पद पर बने रहने देगी या फिर संसद का सदस्य बनाने का फैसला करेगी। सूत्रों के मुताबिक ऐसी खबर है कि डामोर सांसद पद से इस्तीफा दे सकते हैं। अभी तक ऐसी अटकलें हैं। वहीं, दूसरी ओर कांग्रेस प्रत्याशी और पूर्व सांसद कांतिलाल भूरिया एक बार फिर इस क्षेत्र में हार के बाद सक्रिय हो गए हैं। अगर डामोर सांसद पद छोड़ते हैं तो यहां उप चुनाव होगा। जिसके लिए भूरिया ने तैयारी शुरू कर दी है। दोनों ही हालातों में कांग्रेस खुश है। 

दरअसल, अगर डामोर सांसद का पद नहीं छोड़ते हैं तो भी कांग्रेस इस सीट को जीतने में पूरा ताकत झोंक देगी। कहा जाता है सत्ता पक्ष को उप चुनाव में लाभ मिलता है। वहीं, कांतिलाल भूरिया ने भी यहां सक्रियाता दिखाते हुए जनता के बीच जाना शुरू कर दिया है। माना जा रहा है कि कांतिलाल भूरिया झाबुआ विधानसभा का चुनाव लड़कर राजनीतिक पद पर लौटना चाहते हैं। चूंकि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है, लिहाजा उन्हें आशा है कि अगर वे विधायक के रूप में चुनकर जाते हैं, तो सरकार में शामिल हो सकते हैं। हालांकि भूरिया के चुनाव लड़ने को लेकर ना तो कांग्रेस की ओर से और ना ही कांतिलाल भूरिया की ओर से ऐसा कोई संकेत मिला है, लेकिन झाबुआ में उनकी सक्रियता से कई कयास लगाए जा रहे हैं।