MP News : किसान मित्र दीदी की राज्य शासन से बड़ी मांग, बहाली और पुनर्नियुक्ति के लिए आज करेंगे एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन

किसान मित्र दीदी का आरोप है कि सरकार द्वारा ध्यान नहीं देने और बहाली तथा नियुक्ति ना होने की वजह से वह बेरोजगार हो गए हैं। साथ ही 10 से 12 वर्षों से कृषि विभाग की आत्मा परियोजना में कार्य करते हुए आज सभी किसान मित्र दीदी ओवरेज हो गए हैं।

MP Kisan Mitra Didi Protest : मध्यप्रदेश में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं। इससे पहले एक बार फिर से किसान, युवा , कर्मचारियों की मांग शुरू हो गई है। वहीं 10 जनवरी को किसान मित्र दीदी द्वारा नीलम पार्क, डी मार्ट मॉल के सामने जहांगीराबाद में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन करने की तैयारी की गई है। इस धरना प्रदर्शन के दौरान किसान मित्र दीदी राज्य शासन से अपनी पुनर्नियुक्ति और बहाली की मांग करेंगे।

किसान मित्र दीदी का आरोप है कि भारत सरकार की आत्मा परियोजना के तहत कृषि विभाग में 10 से 12 वर्षों तक कार्य करने के बावजूद मध्य प्रदेश की पूर्व की कमलनाथ सरकार द्वारा उन्हें भाजपा और संघ, भारतीय मजदूर संघ कार्यकर्ता बताकर 31 दिसंबर 2019 को उनके कार्य से उन्हें पृथक कर दिया गया था।

27000 किसान मित्र दीदी की बहाली-नियुक्ति अटकी

इतना ही नहीं किसान मित्र दीदी का कहना है कि मध्य प्रदेश में भाजपा की सरकार बने लगभग 3 साल होने जा रहे हैं लेकिन आज भी 27000 किसान मित्र दीदी की बहाली नियुक्ति नहीं की गई है। किसान मित्र दीदी का कहना है कि विधानसभा के उपचुनाव में किसान मित्र दीदी ने भाजपा के सहयोग किया था और भाजपा की सरकार बनी। बावजूद इसके सरकार किसान मित्र दीदी की तरफ ध्यान नहीं दे रही है। जिससे वो बहुत दुखी और परेशान है।

ओवरऐज होने की वजह से दूसरे शासकीय सेवा में आवेदन करने से वंचित

किसानी मित्र दीदी का आरोप है कि सरकार द्वारा ध्यान नहीं देने और बहाली तथा नियुक्ति ना होने की वजह से बेरोजगार हो गए हैं। साथ ही 10 से 12 वर्षों से कृषि विभाग की आत्मा परियोजना में कार्य करते हुए आज सभी किसान मित्र दीदी ओवरेज हो गए हैं। किसान मित्र दीदी का कहना है कि ओवर ऐज होने की वजह से दूसरे शासकीय सेवा में भी आवेदन करने से वह वंचित हैं, ऐसे में उनकी बहाली और पुनः नियुक्ति की मांग के लिए संवैधानिक और शांतिपूर्ण ढंग से शासन के समक्ष 10 जनवरी सुबह 10:00 बजे से एक दिवसीय धरना प्रदर्शन करेंगे। इस दौरान शासन को अपनी मांगों से अवगत कराएंगे ताकि जल्द से जल्द उनकी मांग पूरी की जा सके।