knife-was-up-to-4-inches-in-the-head-doctors-team-save-his-life-

भोपाल| राजधानी भोपाल के हमीदिया अस्पाताल में एक ऐसा केस आया, जिसे देखकर हर कोई हैरान था| क्यूंकि खून से लथपथ युवक के सिर में 4 इंच अंदर तक चाकू घुसा हुआ था| थोड़ी भी देर होती तो मरीज की मौत भी हो सकती थी| मरीज की स्तिथि को देखते हुए डॉक्टरों ने तत्काल उसे एडमिट किया और वरिष्ठ डॉक्टरों की टीम ने सिर में 4.5 इंच अंदर तक घुसे चाकू को निकालते हुए सफल ऑपरेशन किया| युवक अब खतरे से बाहर बताया जा रहा है| 

दरअसल, राजगढ़ के ब्यावरा में रविवार रात को दो लोगों के विवाद के दौरान युवक के सिर में चाक़ू से हमला किया गया था, जिसे रात करीब 12 बजे हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया| जहां वरिष्ठ न्यूरोसर्जन डॉ. आईडी चौरसिया और उनके साथ वरिष्ठ चिकित्सकों की टीम ने सोमवार सुबह सफल ऑपरेशन किया| मरीज फिलहाल खतरे से बाहर है| डॉ. चौरसिया ने एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ से बातचीत में बताया कि रात को मरीज गंभीर हालत में यहां लाया गया था, जिसके सिर में 4 इंच अंदर तक चाक़ू घुसा हुआ था|  उन्होंने बताया कि मरीज की हालत नाजुक थी और अगर थोड़ी भी देर की जाती तो मरीज की जान जा सकती थी| वहीं सिर में घुसे चाक़ू को निकालना भी एक चुनौती थी| क्यूंकि ऐसी स्तिथि में थोड़ी भी चूक से मरीज की जान खतरे में पड़ सकती थी या उसकी आँखों की रौशनी भी जा सकती थी| उन्होंने बताया कि बिना कोई देर किये मरीज का इलाज शुरू किया गया| सभी जरूरी उपचार रात में ही प्रारम्भ कर दिए गए और सोमवार सुबह ऑपरेशन किया गया, जो कि सफल रहा| डॉ चौरसिया समेत आठ डॉक्टरों की टीम ने इस ऑपरेशन को किया| जिनमे डॉ. प्रतीक मालपानी, ब्रह्मानंद गुप्ता, गौरव राजपूत, कुणाल वैद्य, आदित्य अग्रवाल, संदीप राठौर, और डॉ स्वीटी भोला शामिल रहे| 

मामला राजगढ़ जिले के ब्यावरा का है, जहां रविवार रात करीब आठ से नौ बजे के बीच 24 वर्षीय युवक रवि जाटव का मामूली बात पर विवाद हो गया| रवि के पिता जय सियाराम ने बताया कि साहू धर्मशाला के पास एक युवक ने उनके बेटे पर चाकू से हमला किया और फरार हो गए| आनन् फानन में गंभीर रूप से घायल रवि को पहले ब्यावरा सिविल हॉस्पिटल ले जाया गया| यहां प्राथमिक उपचार के बाद चाकू लगी हालत में ही भोपाल रेफर किया गया| जहां हमीदिया अस्पताल में रात को भर्ती किया गया और सुबह उनके बेटे का सफल ऑपरेशन किया गया| उन्होंने ऑपरेशन कर उनके बेटे की जिंदगी बचाने वाले सभी डॉक्टरों को धन्यवाद दिया| वहीं ब्यावरा पुलिस भी हमीदिया पहुंची और सिर में घुसे चाकू को अपने साथ ले गई|