नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने दी कम्प्यूटर बाबा को चुनौती

भोपाल। 

रेत अवैध उत्खनन को लेकर अक्सर शिवराज सरकार को घेरने वाले और नर्मदा-क्षिप्रा एवं मंदाकनी नदी न्यास के अध्यक्ष कंप्यूटर बाबा को अब नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने बड़ी चुनौती दी है।भार्गव ने कहा है कि कंप्यूटर बाबा मेरे साथ मंच पर आए और गीता का श्लोक सुनाए ।

भार्गव यही नही रुके उन्होंने आगे कहा कि बाबा रामचरितमानस की चौपाई सुनाए, जनता खुद जान जाएगी कि कंप्यूटर बाबा कितने बड़े बाबा है। रेत उत्खनन को लेकर नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि प्रदेश में रेत का अवैध उत्खनन बड़े पैमाने पर हो रहा है। रेत उत्खनन को लेकर कंप्यूटर बाबा ने कुछ नहीं किया है।कांग्रेस सरकार में प्रदेश में लोकतंत्र की बजाए कबीला तन्त्र बनता जा रहा है।कांग्रेस का हर नेता अधिकारियों को डराने में लगा हुआ है।अब देखना है कि भार्गव की चुनौती तो बाबा कैसे लेते है।देखना दिलचस्प होगा कि  क्या बाबा भार्गव की चुनौती स्वीकार कर मंच पर श्लोक सुनाते है या फिर नही।

बता दे कि शिव ‘राज’ में सरकार की नाक में दम करने वाले कम्प्यूटर बाबा को कमलनाथ सरकार ने  नर्मदा-क्षिप्रा एवं मंदाकनी नदी न्यास के अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी है।बाबा लगातार कहां कितना और कैसे रेत का अवैध खनन हो रहा है इसकी जानकारी सरकार को देते है। बीते दिनों उन्होंने होशंगाबाद समेत कई जिलों का दौरा किया था और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज पर कई आरोप लगाए थे।वही आने वाले दिनों में बाबा नर्मदा युवा सेना का निर्माण करने वाले है जो अवैध परिवहन व उत्खनन की जानकारी प्रशासन को देगी और इसके बाद कार्रवाई की जाएगी। इसमें करीब एक हजार साधु संत भी शामिल होंगें।इसके पहले नेता प्रतिपक्ष ने उन्हें चुनौती दी है।