Leader-of-the-Opposition-Gopal-Bhargava-returned-the-security-system

भोपाल। सरकारी की कार्यप्रणाली से नाराज नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कमलनाथ सरकार द्वारा दी गई सुरक्षा व्यवस्था को वापस लौटा दिया है। इसके लिए भार्गव ने गृह विभाग को पत्र लिख कर इस बात की सूचना दी है। भार्गव ने लिखा है कि कि आप इस बात से भलीभांति अवगत होंगें कि गृह विभाग द्वारा मुझे सुरक्षा के लिए पांच सुरक्षाकर्मी उपलब्ध करवाए गए है, जिनमें से दो सुरक्षाकर्मियों को मुझे बिना बताए सहायक पुलिस महानिरीक्षक विशेष शाखा (सुरक्षा) के आदेश देकर बीते दिनों पांच मार्च को अलग कर दिया गया है। इसलिए मैं खुद बाकी के सुरक्षा कर्मियों को वापस गृह विभाग को लौटा रहा हूं। मैं जनता का सेवक हूं और जनता मेरी सुरक्षा करने मे सक्षम है।

भार्गव ने आगे पत्र में लिखा है कि मैं पिछले 35  सालों से विधानसभा का सदस्य हूं। पिछली सरकार में लगातार 15  सालों तक मंत्री रहा हूं और वर्तमान में विधानसभा का सबसे वरिष्ठ नेता होने के साथ साथ विधानसभा का नेता प्रतिपक्ष भी हूं।वर्तमान में प्रदेश की ध्वस्त और चरमराई कानून व्यवस्था, प्रदेश में अपराधियों के बड़े हुए हौसले, सरेराह हो रही हत्या, अपहरण और लूट की घटनाओं को नजरअंदाज कर मेरी सुरक्षा व्यवस्था को कम किया जाना मुझे राजनैतिक और प्रशासनिक षडयंत्र प्रतीत होता है । 

भार्गव ने आगे लिखा है कि चुंकी मैं जनता के द्वारा जनता के लिए चुना गया हूं, इसलिए मेरा विश्वास है कि मेरी जवाबदेही जनता के लिए है और जनता मेरी सुरक्षा करने में सक्षम है।इसलिए मैं अपनी सुरक्षा व्यवस्था में लगे बाकी के तीन सुरक्षा कर्मियों को आज दस मार्च से वापस गृ विभाग को लौटा रहा हूं।

नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने वापस लौटाई सुरक्षा, बोले- जनता मेरी रक्षा करने में सक्षम