प्रदेश भर में हो रही बिजली कटौती पर मंत्री ने बीजेपी को ठहराया जिम्मेदार

load-shading-in-madhya-pradesh-minster-statement-

भोपाल। प्रदेश में भीषण गर्मी का प्रोकप है ऐसे में बिजली कटौती ने भी प्रदेश की जनता को त्रस्त कर दिया है। विपक्ष पहले से सरकार को कटौती के मुद्दे पर घेराव कर रहा है। ऐसे में कमलनाथ के मंत्री ने बीजेपी पर बड़ा निशाना साधा है।  पर्यटन एवं नर्मदा घाटी विकास मंत्री सुरेंद्र सिंह हनी बघेल ने बिजली कटौती का ठीकरा कंपनी के अफसरों पर फोड़ा है। उन्होंने कहा कि बिजली विभाग के अफसर बीजेपी के इशारों पर अघोषित कटौती कर रहे हैं। जिससे कांग्रेस सरकार की छवि को दागदार किया जा सके। 

दरअसल, शनिवार को मंत्री बघेल उज्जैल में थे। यहां उन्होंने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि जो अघोषित कटौती कर रहे हैं उन पर कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि उज्जैन में जलसंकट को दूर करने के लिए नर्मदा से डाली जा रही पाइप लाइन का काम पूरा होने वाला है और जल्द ही उज्जैन को पेयजल के लिए नर्मदा का पानी मिलने लगेगा। उन्होंने डम्पर कांड की फाइल फिर से खोले जाने व भाजपा सरकार के दौरान हुई गड़बड़ी की जांच करवाने की बात कही है। मंत्री ने भगवान महाकाल के दर्शन किए। 

गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव में जीतने के बाद से ही कांग्रेस के सत्ता में आते ही प्रदेश भर में बिजली कटौती की जा रही है। जिसे लेकर सरकार का काफी किरकिरी हो चुकी है। ग्वलियार क्षेत्र में सबसे अधिक लोग परेशान हैं। यहां दिन में दस घंटे तक की कटौती की जा रही है। राजधानी भोपाल में भी ऐसा ही हाल है। जिसे लेकर स्थानीय लोग अब यह कहने लगे हैं कि बीजेपी के राज में ऐसा नहीं होता था। दिग्वजिय सिंह के शासन में बिजटी कटौती एक सबसे बड़ा मुद्दा था। जो कांग्रेस की सरकार ले डूबा था। 15 का लंबा वनवास काटकार सत्ता में आई  कांग्रेस अब एक बार फिर उसी कगार पर है।