मप्र के कुछ जिलों में दी जा सकती है लॉकडाउन में ढील

भोपाल।

मध्यप्रदेश में अब तक 22 जिलों में कोरोना पेशेंट मिल चुके हैं और इसके चलते इन जिलों को पूरी तरह से लॉकडाउन कर दिया गया है। लॉकडाउन का यह फेस इन जिलों में 30 अप्रैल तक जारी रखने की उम्मीद है। इसके साथ-साथ राज्य सरकार का यह भी विचार है कि जिन जिलों में कोरोना का संक्रमण का नही फैला है, वहां कुछ चीजों में रियायत दे दी जाए।

स्कूल, कॉलेज, धार्मिक ,पिकनिक स्थल , बंद रखे जाये। जिले में परिवहन खोल दिया जाए और जिले के अंदर आवागमन होता रहे ।यदि पङोसी जिले मे कोरोना नही है तो उसे भी आवागमन के लिए खोल दिया जाए ।इसके साथ-साथ खदाने, फैक्ट्रियां और किराना स्टोर भी खोल दिए जाएं और रोजगार मूलक काम शुरू करने के लिए लोक निर्माण विभाग और ग्रामीण सड़क विभाग की योजनाओं पर काम शुरू हो जाए। मध्यप्रदेश में अभी तक कोरोना संक्रमण को देखते हुए भोपाल और इंदौर को रेड जोन में बांटा गया है। इसके साथ-साथ ऑरेंज जोन में उज्जैन मुरैना बड़वानी ग्वालियर देवास शिवपुरी जबलपुर खरगोन होशंगाबाद खंडवा छिंदवाड़ा बैतूल धार रायसेन श्योपुर सागर शाजापुर विदिशा मंदसौर रतलाम जिले हैं ।ग्रीन जोन में बाकी के सभी 30 जिले हैं।