मदरसा बच्चों ने बनाया रोबोट, करेगा खूफिया सेवा

भोपाल। हम हम बात करें बड़े-बड़े स्कूल के बच्चों के आधुनिकता के पार्टिसिपेशन की तो सबसे पीछे मदरसे में पढऩे वाले बच्चे ही नजर आते हैं, लेकिन इस रिकॉर्ड को तोड़ते हुए, एयू स्कूल एंड मदरसे  के बच्चों ने इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस रोबोट बनाकर एक नई मिसाल कायम की है। यह सब संभव हो पाया एयू स्कूल के चेयरमैन कलीम खान की बदौलत और इस प्रोजेक्ट में सहयोग देने वाले मैकेनिकल इंजीनियर आदिल खान के प्रयासों से। जिन्होंने 4 महीने के अथक प्रयासों से और स्टूडेंट की मेहनत और लगन के चलते इस रिपोर्ट को विकसित किया। बीएचईएल गोविंदपुरा भोपाल के 9 वीं और 11 वीं कक्षा के छात्रों ने क्षेत्रीय विज्ञान केंद्र भोपाल में 21 वें लेक सिटी साइंस मॉडल प्रदर्शनी 26 व 27 नवंबर को नम्बर-1 2019 में भाग लिया। उन्होंने एक रोबोट विकसित किया, जिसमें चार 6 पहिया ड्राइव तंत्र और 4 पहिया मोड़ तंत्र है। छात्रों का दावा है कि इस रोबोट का इस्तेमाल रक्षा के लिए, खुफिया सेवाओं के लिए दुश्मनों के रहस्यों को पहचानने में मदद के लिए किया जा सकता है। रोबोट ज्यादातर प्रकार की सतहों पर ड्राइव के योग्य है, मुख्य रूप से ऑफ-रोड़ कर सकता है, जो इस उद्देश्य के लिए होना चाहिए। अगर उन्हें अवसर मिलता है, तो वे पहले इस मॉडल को वायरलेस कॉन्सेप्ट में बनाकर अपग्रेड कर सकते हैं, साथ ही वे कैमरे, सेंसर और कई और आवश्यक कार्यों को जोड़कर इसे काम के लिए सर्वश्रेष्ठ बना सकते हैं।