मध्यप्रदेश : कठिन परीक्षा में पास होकर पुलिस विभाग में भर्ती हुए 19 देसी डॉग, अलग-अलग जिलों में हुई पोस्टिंग

मध्य प्रदेश पुलिस पहली बार विदेशी के साथ भोपाल के डॉग पुलिस ट्रेनिंग स्कूल में ट्रेनिंग के बाद तैयार किए गए 19 देसी डॉग की सर्विस ले रही है, इसके लिए पुलिस विभाग ने देशभर से अलग-अलग नस्ल के देसी डॉग खरीदे थे, इसमें 3 से 6 महीने के पिल्लों की 9 महीने की ट्रेनिंग हुई।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश में देशी डॉग ने सफलतापूर्वक अपनी ट्रैनिंग पूरी कर ली है अब उनकी पुलिस विभाग में पुलिसकर्मी की तरह ही भर्ती की गई है, दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील के बाद शिवराज सरकार ने यह मेड इन एमपी डॉग तैयार किए है। पिछले कुछ महीनों से यह सभी डॉग को पुलिस मुख्यालय स्तर पर गठित आईपीएस अफसरों की कमेटी के कठिन एग्जाम से होकर गुजरे, इन डॉग्स  की संख्या 19 है, ट्रैनिंग के बाद बाकायदा इनकी अब पोस्टिंग प्रदेश के अलग-अलग जिलों में की गई है, इन सभी को भर्ती से लेकर रिटायर्टमेंट तक सभी सरकारी सुविधा मिलेगी, इन सभी देशी डॉग से लॉ एंड ऑर्डर और पुलिस इन्वेस्टिगेशन की ड्यूटी ली जा रही है।

यह भी पढ़ें…. छतरपुर : क्यों नही दिए समोसे के साथ दोने और चम्मच, नाराज ग्राहक ने की सीएम हेल्पलाइन में शिकायत

मध्यप्रदेश में यह पहला मौका होगा जब देशी कुत्तों को ट्रैनिंग के बाद पुलिस विभाग में भर्ती किया गया है, इसके लिए पुलिस विभाग ने देशभर से अलग-अलग नस्ल के देसी डॉग खरीदे थे, 3 से 6 महीने के पिल्लों की 9 महीने की ट्रेनिंग हुई, ट्रेनिंग के बाद इनके हैंडलर और सभी 19 डॉग का फाइनल एग्जाम पुलिस मुख्यालय स्तर पर आईपीएस अफसर रैंक के अधिकारियों की गठित कमेटी ने लिया। जिन 19 देसी डॉग को पुलिस विभाग में शामिल किया गया है, उनके नाम सिंबा, सोमू, हेजल, चिली, ऐली, लोगन, कैली, रजिया, नोरा, चार्ली, लियो, लीजा, रिया, रोज, हार्ली, चिप्पी, सुल्तान, राज और वीरा हैं, इसमें 12 स्निफर डॉग की ड्यूटी हैंडलर के साथ वीआईपी ड्यूटी, लॉ एंड ऑर्डर और 7 ट्रैकर की ड्यूटी पुलिस इन्वेस्टिगेशन में लगाई गई है। सभी डॉग फिजिकल परीक्षा में पास हो गए, इनमें 12 स्निफर और 7 ट्रैकर, नारकोटिक्स डॉग हैं। फिलहाल