मध्यप्रदेश : आखिर क्यों मुख्यमंत्री शिवराज भोपाल की सड़कों पर निकलेंगे ठेला लेकर

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। अब मध्यप्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ठेला लेकर राजधानी भोपाल की सड़कों में नजर आएगे, यह सुनकर आप भी चौंक गए होंगे, दरअसल मुख्यमंत्री ने यह फैसला गरीब बच्चों के लिए किया है, मुख्यमंत्री शिवराज गरीब बच्‍चों के लिए खिलौना एकत्रित करने राजधानी की सड़कों पर ठेला लेकर निकलेंगे। हालांकि मुख्यमंत्री शिवराज के इस फैसले पर कांग्रेस ने उन पर तंज कसा है।

यह भी पढ़ें… MP: रविवार को एक्टिव होगा नया पश्चिमी विक्षोभ, इन जिलों में बूंदाबांदी के आसार, जल्द होगी मानसून की एंट्री

दरअसल गुरुवार को एक कार्यक्रम में जनप्रतिनिधियों से बातचीत के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज ने ‘एडॉप्‍ट एन आंगनवाड़ी’ कार्यक्रम के तहत किसी आंगनवाड़ी को गोद लेने के लिए प्रेरित किया था, उन्होंने कहा कि भोपाल की सड़कों पर ठेला लेकर निकलेंगे और लोगों से बच्‍चों के लिए खिलौना मांगेंगे। वही अपनी इस बात को उन्होंने शुक्रवार को सुबह सीएम हाउस से भिंड और सीधी के कलेक्‍टर के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान फिर दोहराया, उन्‍होंने भिंड कलेक्‍टर से कहा- मैं भोपाल में हाथ ठेला लेकर बच्चों के लिए खिलौने लेने निकलने वाला हूं। आप भी भिंड के लिए योजना बनाये।

गौरतलब है कि सीएम शिवराज ने सगुरुवार को जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के साथ बैठक में कहा था कि अगर किसी शहर में कोई बच्चा ऐसा है जो कहीं भीख मांगता है तो वह हम सबके लिए शर्म की बात है। यह कलेक्टर की जवाबदारी है कि तत्काल उसके आश्रय की व्यवस्था करें। उसकी पढ़ाई कपड़े आदि के खर्चे की व्यवस्था सरकार करेगी। उन्‍होंने कहा कि किसी बच्चे को हम सड़क पर नहीं रहने देंगे। वही कांग्रेस ने इसे नौटंकी करार दिया है, कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता के. के. मिश्रा ने मुख्यमंत्री के इस फैसले पर इसे नौटंकी की इंतहा बताया है, उन्होंने ट्वीट किया है कि “अब शिवराज जी,गरीब बच्चों के लिए खिलौने एकत्र करने के लिए ठेला चलाएंगे, नौटंकी की इन्तहां! बुधनी तो खिलौना हब है? आंगनवाड़ी, बच्चों व कुपोषण के नाम पर हुआ अरबों का खर्च कौन-कौन डकार गया? CM सा.जांच करवाइये”..