मध्यप्रदेश : नगर सरकार में क्रिमिनल की NO-ENTRY, दिग्विजय ने बताया इसे BJP का स्वांग

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने भारतीय जनता पार्टी द्वारा आपराधिक पृष्ठ भूमि के पार्षद प्रत्याशियों के टिकिट काटे जाने की बात को कोरा स्वांग बताते हुए जमकर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि पिछले 2-3 दिनों से भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बयान देकर जनता को ये बताने की कोशिश कर रहे हैं कि आदतन अपराधियों की भाजपा में जगह नही, जबकि पन्ना नगर पालिका के वार्ड 12 से प्रत्याशी कीर्ति त्रिवेदी भाजपा के जिला उपाध्यक्ष अंकुर त्रिवेदी की पत्नी हैं।

यह भी पढ़ें…. इन कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, मिलेगा पेंशन योजना का लाभ, अन्य भत्ते सहित DA होंगे उपलब्ध, बढ़ेगी सैलरी

दिग्विजय सिंह ने कहा कि यह वही जिला है जहां से भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा स्वयं सांसद हैं। अंकुर पर तो दर्जनों मुकद्दमे दर्ज हैं ही वहीं अंकुर त्रिवेदी के पिता अवधेश त्रिवेदी ऊर्फ खुन्ना महाराज पर पन्ना के कोतवाली व मडला थाना क्षेत्रों में ढेरों प्रकरण दर्ज हैं ऐसे प्रकरणों की संख्या 50 से ऊपर बताई गई है। खुन्ना महाराज पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून(NSA) जैसा गंभीर प्रकरण भी दर्ज है। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा के प्रभाव से कीर्ति त्रिवेदी की टिकिट काटने में भाजपा असमर्थ नजर आ रही है। उन्होंने कहा कि इसी मामले में पन्ना जिले की पूर्व अध्यक्ष दिव्या रानी सिंह ने भाजपा के दोहरे मापदंड को लेकर सोशल मीडिया पर वीडी शर्मा के बयान, अंकुर त्रिवेदी व खून्ना महाराज के ऊपर दर्ज प्रकरण के पहले से वायरल पीडीएफ फाईल को शेयर किया तो इस बात से कुपित होकर वार्ड 12 की भाजपा पार्षद प्रत्याशी कीर्ति त्रिवेदी ने दिव्या रानी सिंह के खिलाफ शिकायत दर्ज करा दी। जिसमें खुन्ना महाराज के खिलाफ प्रकरण की जो पीडीएफ वायरल की गई हैं उसमें बिंदु क्र. 17 में दर्शाई गई धारा उन पर नही लगी है और जानकारी भ्रामक व असत्य है। श्री सिंह के कहा कि इस तरह से कीर्ति त्रिवेदी ने विंदु 17 को छोड़कर अपने पति अंकुर त्रिवेदी और ससुर खुन्ना महाराज पर दर्ज सभी प्रकरणों पर एक प्रकार से सहमति जताई है और खुन्ना महाराज पर 10 प्रकरणों की इस वायरल लिस्ट में एनएसए का गंभीर प्रकरण का भी जिक्र है।

यह भी पढ़ें….. सागर आईजी को आयोग ने नोटिस जारी कर पूछा- “गब्बर को इतनी बेरहमी से क्यूं पीटा” !

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि बतौर वीडी शर्मा, प्रत्याशी के किसी भी परिजन पर प्रकरण दर्ज होने पर भाजपा से चुनाव नहीं लड़ाया जाएगा फिर कुख्यात अपराधी खुन्ना महाराज की बहू व भू माफिया अंकुर त्रिवेदी की पत्नी कीर्ति त्रिवेदी को चुनाव लड़ाना भाजपा की कौन सी मजबूरी है। पूर्व सीएम ने कहा कि भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा यह दोहरा मापदंड अपने किस राजनीतिक उद्देश्य की पूर्ति के लिए अपना रहे हैं। उन्होंने कहा कि वीडी शर्मा ने भाजपा सरकार के एक मंत्री के गुंडा व अपराधी प्रेम को उजागर करते हुए उनके समर्थकों के टिकट काटकर अच्छा संदेश देने का प्रयास किया है तो फिर वे पन्ना में आदिवासियों की जमीन हड़पने वाले भूमाफिया अंकुर त्रिवेदी की टिकिट काटने का अवसर कैसे चूक गए? आखिर वीडी शर्मा की इन आपराधिक पृष्ठ भूमि के प्रत्याशी पर मेहरबानी क्यों है, क्या वीडी शर्मा ऐसे तत्वों को अपने चुनाव के लिए तैयार कर रहे हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि इंदौर के बड़े भाजपा नेता के समर्थक का टिकट काटने में वीडी शर्मा ने जरा भी देर नहीं लगाई फिर पन्ना में भाजपा की राजनैतिक शुचिता वाले पैमाने कमजोर क्यों पड़ गए, वीडी शर्मा द्वारा जिस तरह से पन्ना में अपराधियों को खुला संरक्षण दिया जा रहा है उससे भाजपा का चाल चरित्र चेहरा खुलकर सामने आ गया है। यदि पन्ना के वार्ड 12 से कीर्ति त्रिवेदी की टिकट यथावत रहती है तो भाजपा की आपराधिक पृष्ठभूमि के लोगों को चुनाव नहीं लड़ने देने की बात झूठी साबित होगी।

मध्यप्रदेश : नगर सरकार में क्रिमिनल की NO-ENTRY, दिग्विजय ने बताया इसे BJP का स्वांग