मध्यप्रदेश पंचायत चुनाव : आज गांव में थमेगा चुनावी शोर

पंचायत चुनाव

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश में गुरुवार से चुनावी शोर थम जाएगा, दरअसल आज यानि 23 जून की दोपहर 3 बजे से गांव में पिछले कुछ दिनों से जारी जनसम्पर्क और ढोल के शोर से लोगों को राहत मिल जाएगी, इसके साथ ही उन इलाकों में जहां मतदान होना है, वहाँ 48 घंटे तक शराब दुकानें बंद रहेगी। गौरतलब है कि भोपाल-इंदौर समेत प्रदेश की 115 जनपदों में पहले चरण में 25 जून को सुबह 7 से दोपहर 3 बजे तक वोटिंग होगी। वही दूसरी तरफ़ भोपाल की कुल 222 ग्राम पंचायतों में पहले ही चरण में चुनाव हो जाएंगे। भोपाल में पहले चरण में मतदान में फंदा और बैरसिया जनपदों में सवा 3 लाख से ज्यादा मतदाता मतदान करेंगे। फंदा में 266 और बैरसिया में 309 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। जहां मतदाता वोटिंग कर सकेंगे। प्रशासन पूरी मुस्तैदी से चुनाव प्रचार खत्म होने के बाद भी नजर जमाये रखेगा। चुनाव आयोग के तय नियमों के अनुसार आचार संहिता का उल्लंघन करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें…. कांग्रेस नेता पर 10 लाख में टिकट बेचने का आरोप

चुनाव आयोग के अनुसार पहले चरण में जिन ग्राम पंचायत क्षेत्रों में वोटिंग होना है, वहॉं पर 23 जून को दोपहर 3 बजे से सार्वजनिक सभा करना प्रतिबंधित हो जाएगा।  वोटिंग पूरी तरह समाप्त होने के बाद ही शराब दुकानें खुलेंगी। पहले चरण में 8702 ग्राम पंचायत, 115 जनपद पंचायतों में 27 हजार 49 मतदान केंद्रों पर 1 करोड़ 49 लाख वोटर मतदान करेंगे।

तीन चरण में हो रहे चुनाव
पंचायत चुनाव तीन चरण में होगा। पहले चरण की वोटिंग 25 जून को होगी। दूसरे चरण के लिए मतदान 1 जुलाई और तीसरे चरण के लिए 8 जुलाई को मतदान होगा।

इन जिलों में पहले चरण में चुनाव

भोपाल की फंदा-बैरसिया, राजगढ़ की ब्यावरा-राजगढ़, रायसेन की सिलवानी-बाड़ी, सीहोर की सीहोर, विदिशा की बासोदा-विदिशा, इंदौर की इंदौर, महू, सांवरे-देपालपुर, खरगोन की भगवानपुरा-सेगांव, खंडवा की खंडवा, हरसूद-बलड़ी (किल्लोद), धार की निसरपुर, कुक्षी, बाग, डही-बदनावर, झाबुआ की पेटलावद-थांदला, बुरहानपुर की बुरहानपुर, अलीराजपुर की चंद्रशेखर आजाद नगर (भावरा)-कटि्ठवाड़ा, बड़वानी की सेंधवा-पानसेमल, ग्वालियर की मुरार, भीतरवार, घाटीगांव-डबरा जनपद में चुनाव होंगे।

गुना की गुना-बमोरी, शिवपुरी की खानियाधाना-बदरवास, अशोकनगर की अशोकनगर, दतिया की दतिया, जबलपुर की सिहोरा, कुंडम, पनागर-जबलपुर (बरगी), छिंदवाड़ा की छिंदवाड़ा, तामिया, हर्रई-अमरबाड़ा, सिवनी की सिवनी-बरघाट, बालाघाट की बैहर, वारासिवनी-खैरलांजी, मंडला की बिछिया, मवई-नैनपुर, डिंडौरी की शहपुरा-मेहदवानी, नरसिंहपुर की नरसिंहपुर, गोटेगांव, करेली, चावरपाठा, बाबई चीचली-सांईखेड़ा, कटनी की विजयराघवगड़-ढ़ीमड़खेड़ा जनपदों में पहले चरण में चुनाव हो जाएंगे।

उज्जैन जिले की बड़नगर-उज्जैन जनपद समेत नीमच की नीमच, रतलाम की अलोट, शाजापुर की शाजापुर, आगर-मालवा की बड़ौद, मंदसौर की मंदसौर, देवास की बागली, कन्नौद-खातेगांव, सागर की सागर, रहली-केसली, छतरपुर की छतरपुर-राजनगर, दमोह की दमोह-पथरिया, टीकमगढ़ की बलदेवगढ़, निवाड़ी की निवाड़ी, पन्ना की पन्ना-अजयगढ़, रीवा जिले की हनुमनां, मऊगंज-नईगड़ी, सिंगरौली की बेढ़न, सीधी की सिहावल-कुसमी जनपदों में पहले ही चरण में मतदान हो जाएगा।

सतना जिले की चित्रकूट, सुहावल-उचहेरा, नर्मदापुरम की सोहागपुर-केसला, बैतूल की बैतूल, आमला-शाहपुर, हरदा की हरदा, टिमरनी-खिरकिया, शहडोल की सोहागपुर, उमरिया की उमरिया-पाली नंबर-2, अनूपपुर की पुष्पराजगढ़, भिंड की मिहोना-लहार, श्योपुर की श्योपुरकलां, मुरैना की अंबाह और पोरसा जनपदों में पहले चरण में ही वोटिंग होगी।