मध्यप्रदेश : डाककर्मियों की 15 नवंबर से हड़ताल

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश में डाककर्मी मंगलवार से कल यानी 15 नवंबर से आंदोलन शुरू करेंगे। विभाग में अधिकारियों की प्रताड़ना से नाराज डाक कर्मियों ने सड़क पर उतरकर विरोध जताने का फैसला किया है, आंदोलन की रणनीति में तय किया गया है कि विरोध प्रदर्शन के दौरान सभा और धरने के साथ ही आमरण अनशन भी किया जाएगा, नेशनल फेडरेशन ऑफ पोस्टल एम्पलॉयज (एनएफपीई) से संबद्ध डाक विभाग के सभी कर्मचारी संगठन यह आंदोलन करेंगे।

यह भी पढ़ें…. Post Office Scheme: पोस्ट ऑफिस की यह स्कीम देगी बेहतर रिटर्न, कुछ सालों में पैसा होगा डबल, 1000 रुपये का करें निवेश

बताया जा रहा है कि अधीक्षक डाकघर भोपाल की मनमानी कार्यप्रणाली और प्रताड़ना के चलते डाकर्मियों ने यह फैसला लिया है, उन्होंने गंभीर आरोप भी लगाए है।  पदाधिकारियों एवं सक्रिय सदस्यों का कहना है कि अपने कार्यालय में बुलाकर उन पर ट्रेड यूनियन छोड़ने का दबाव बनाना जा रहा है। प्रताड़ित डाककर्मियों ने थक हार कर सड़क पर उतर कर विरोध जताने का फैसला लिया है, आंदोलन के तहत 15 नवंबर की शाम को सेंट्रल टीटी नगर एवं जनरल पोस्ट ऑफिस के सामने नारेबाजी, प्रदर्शन एवं आमसभा आयोजित कर चरणबद्ध आंदोलन शुरू होगा। 16-24 नवंबर 2022 की अवधि में मांगें पूरी नहीं होने की स्थिति में संपूर्ण मध्यप्रदेश के संभागीय डाक मुख्यालयों पर प्रदर्शन, रैली, मौन जुलूस, कैंडल मार्च, माननीय सांसदों, विधायकों, मुख्यमंत्री एवं राज्यपाल को ज्ञापन सौंपे जाएंगे। वहीं, 25 नवंबर को एक दिवसीय हड़ताल की जाएगी। 26 नवंबर से आमरण भूख हड़ताल शुरू करेंगे। इसके बाद अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू करेंगे।