कृषि मंत्री के आश्वासन पर माने मंडी कर्मचारी, हड़ताल खत्म

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| मंडी मॉडल एक्ट (Model Act) लागू किए जाने के विरोध सहित अन्य मांगों को लेकर हड़ताल पर गए प्रदेश की 259 कृषि उपज मंडियों के कर्मचारियों ने रविवार को अपनी हड़ताल (Mandi Strike) वापस ले ली है| कृषिमंत्री कमल पटेल (Kamal Patel) के आश्वासन पर उन्होंने हड़ताल ख़त्म की है| कृषि मंत्री ने इसकी जानकारी दी|

कृषि मंत्री ने बताया कि संयुक्त संघर्ष मोर्चा मप्र मंडी बोर्ड अध्यक्ष सहित सभी पदाधिकारियों एवं बोर्ड के अधिकारियों के साथ रविवार को सौहाद्रपूर्ण वातावरण में चर्चा हुई| उनकी मांगें हैं कि मंडी समिति के जो कर्मचारी है, उनको मंडी बोर्ड में संविलियन किया जाए, ताकि उन्हें वेतन बराबर मिल सके| इस पर मैं स्वयं सहमत हु, बोर्ड की बैठक में इस पर फैसला ले लिया जाएगा|

उन्होंने बताया कि उनकी एक अन्य मांग है कि मंडी बोर्ड के कर्मचारियों को मॉडल एक्ट के कारण भविष्य की चिंता है, इसको लेकर आश्वस्त किया है कि 15 दिन के भीतर इसकी प्रक्रिया भी शुरू करेंगे| मुख्यमंत्री से इसको लेकर चर्चा हुई है| कर्मचारियों के हित में बैठक कर निर्णय करेंगे|