मौसम विभाग की चेतावनी, मप्र के कई जिलों में बारिश और ओले गिरने की आशंका

भोपाल| उत्तर भारत में हुई बर्फबारी के बाद मध्यप्रदेश में भी ठंड बढ़ गई है। तापमान में गिरावट आ गई है, वहीं कई जिलों में कोहरा छाने लगा है। मौसम विभाग ने 12 और 13 दिसंबर को कई जिलों में बारिश और ओलावृष्टि की चेतावनी दी है। उत्तर भारत से आने वाली बर्फीली हवा का रुख धीरे-धीरे मध्यप्रदेश में बढ़ने लगा है। इससे यहां तापमान में गिरावट आने लगी है। ठंड बढ़ गई है। प्रदेश में पचमढ़ी और बैतूल का पारा सबसे कम पहुंच गया है। दोनों ही स्थानों पर करीब 8 डिग्री से. न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया।

यहां गिरेंगे ओले और होगी बारिश

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में 12 और 13 दिसंबर को बारिश और कुछ स्थानों पर ओलावृष्टि की आशंका जताई गई है। कई स्थानों पर गरज-चमक के साथ बारिश हो सकती है। इसके बाद ठंड और बढ़ जाएगी। फिलहाल भोपाल का न्यूनतम तापमान 14 डिग्री के करीब है, जबकि अधिकतम तापमान 27 डिग्री है। बारिश और ओलावृष्टि के बाद तापमान में और कमी आएगी। ग्वालियर में भी 12 और 13 दिसंबर को बारिश और ओलावृष्टि की आशंका व्यक्त की गई है। यहां गरज-चमक के साथ तेज बौछारें पड़ सकती है। इसके अलावा तापमान में गिरावट भी संभव है। फिलहाल ग्वालियर का न्यूनतम तापमान 10 डिग्री और अधिकतम तापमान 24 डिग्री है।

मौसम विभाग के मुताबिक जबलपुर में भी 12 और 13 दिसंबर को बादल छाए रहेंगे और गरज-चमक के साथ बारिश हो सकती है। इसके अलावा ओलावृष्टि की भी आशंका है। इसके बाद तापमान में तेजी से गिरावट होने का पूर्वानुमान लगाया जा रहा है। जबकि 15 और 16 दिसंबर को दो दिनों तक कोहरा छा जाने से दृश्यता पर असर पड़ सकता है। इंदौर में न्यूनतम तापमान 14 डिग्री और अधिकतम तापमान 28 डिग्री बना हुआ है। जबकि तापमान में विशेष परिवर्तन नहीं होगा, वहीं 15 और 16 दिसंबर को हल्का कोहरा छा सकता है, जिससे दृश्यता कम हो सकती है।सतना में भी 12 और 13 दिसंबर को बादल छाए रहेंगे, वहीं गरज-चमक के साथ बारिश की संभावना है। यहां भी ओलावृष्टि की आशंका जताई जा रही है। इसके बाद तापमान में अचानक गिरावट आएगी। क्षेत्र में सुबह के वक्त हल्का कोहरा भी बना रह सकता है।

यहां पड़ेगा कोहरा

मौसम विभाग ने आने वाले समय के लिए पूर्वानुमान जारी किया है। जिसके मुताबिक प्रदेश में अगले 24 घंटों के दौरान भिंड, मुरैना, श्योपुरकलां, ग्वालियर, दतिया, छतरपुर, टीकमगढ़, रीवा, सतना और शाजापुर जिले में कोहरा छा जाएगा। इस कारण दृश्यता में कमी आएगी। मौसम विभाग का यह अनुमान 11 दिसंबर तक रहेगा।

यह था पिछले 24 घंटों का हाल

मध्यप्रदेश में पिछले 24 घंटे से मौसम शुष्क बना हुआ है। न्यूनतम तापमानों में सभी संभागों के जिलों में विशेष परिवर्तन नहीं हुआ। शहडोल, जबलपुर, उज्जैन और चंबल संभागों के जिलों में सामान्य से अधिक तथा शेष संभागों के जिलों में सामान्य रहा। प्रदेश में सबसे कम तापमान 8 डिग्री बैतूल का रिकार्ड किया गया।