सिंधिया के बाद समर्थक मंत्री का उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा

minister-imarti-devi-resignation-from-party-Vice-President-ipost--

भोपाल| राहुल गांधी के कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद से ही पार्टी में इस्तीफों की झड़ी लगी हुई है| मध्य प्रदेश में भी इसका खासा असर देखने को मिल रहा है, जहां लगातार इस्तीफे सामने आ रहे हैं| वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के इस्तीफे के बाद अब  महिला और बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने भी पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है| 

इमरती देवी को मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी की प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया गया था| सिंधिया समर्थक माने जाने वाली मंत्री इमरती देवी ने सिंधिया के बाद अपना इस्तीफा दिया है, जिससे संभावना है कि आगे और भी नेता अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं| लोकसभा चुनाव में सिंधिया की हार को लेकर उनके समर्थकों में निराशा है, वहीं मंत्री इमरतीदेवी सिंधिया की हार को लेकर ईवीएम को दोषी ठहरा चुकी हैं| 

बता दें कि लोकसभा चुनाव से पहले पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रभारी बनाए गए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने हार की जिम्मेदारी लेते हुए रविवार को कांग्रेस महासचिव के पद से इस्तीफा दिया| उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘लोगों के फैसले को स्वीकार करते हुए और जवाबदेही लेते हुए, मैंने राहुल गांधी को एआईसीसी (अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी) के महासचिव के पद से अपना इस्तीफा सौंप दिया है|  उन्होंने कहा, .इस जिम्मेदारी को सौंपने और अपनी पार्टी की सेवा करने का मौका देने के लिए मैं राहुल गांधी को धन्यवाद देता हूं|

सिंधिया के बाद समर्थक मंत्री का उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा