जयवर्धन का पलटवार, ‘गोपाल भार्गव में संस्कार की कमी, भगवान् सद्बुद्धि दे’

minister-jaivardhan-singh-attack-on-gopal-bhargav

भोपाल| लोकसभा चुनाव से पहले नेताओं की बयानबाजी से सियासत का पारा चढ़ गया है| बीजेपी के दिग्गज नेता और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर की गई विवादित टिप्पणी पर उनके पुत्र और मंत्री जयवर्धन सिंह ने भार्गव पर पलटवार किया है| जयवर्धन ने कहा मेरी ईश्वर से प्रार्थना है कि गोपाल भार्गव में संस्कार की कमी है, उनके अच्छे संस्कार दे, भगवान् उन्हें सद्बुद्धि दे| उन्होंने कहा कि राजनीति हमेशा होती है, लेकिन इस तरह व्यग्तिगत आरोप लगाना सही नहीं है, इससे उनका ही नुकसान है| ईश्वर से प्रार्थन है कि उन्हें सद्बुद्धि मिले और वो ऐसी भाषा का उपयोग न करें| 

मंत्री जयवर्धन सिंह ने भोपाल में मीडिया से चर्चा की, इस दौरान कई मुद्दों पर बयान दिया|  स्वच्छता रैंकिंग में भोपाल के 19 वें नंबर पर आने पर नगरी प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह ने कहा स्वच्छता को लेकर केंद्र सरकार के मापदंड समझ से परे ।अहमदाबाद टॉप 5 स्वच्छ सिटी में आया लेकिन राजधानी में भोपाल प्रथम रहा। इससे पहले भोपाल के महापौर आलोक शर्मा ने भी उठाए थे सवाल।  बीजेपी द्वारा अधिकार दिवस मनाए जाने पर बोले जयवर्धन सिंह बीजेपी के पास अब कुछ बचा ही नहीं| वहीं महापौर के चौपाल लगाने पर कांग्रेसियों के बवाल विषय पर कहा कि शहर के महापौर हैं वो जब चाहे जहाँ चाहे चौपाल लगाएं| वहीं लोकसभा चुनाव से पहले पिछड़ा वर्ग को 27% आरक्षण पर जयवर्धन ने कहा आरक्षण देकर सीएम साहब ने एक बड़ा निर्णय लिया है, जल्द हीं सवर्णों को 10 प्रतिशत आरक्षण का अध्यादेश भी पास होगा| 

गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने दुर्घटना करार दिया था। जिसके बाद से वह सत्ताधारी पार्टी भाजपा के निशाने पर आ गए हैं।  उनके इस बयान पर नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने सागर में कहा था कि दिग्विजय सिंह की उंगलियों और मुंह में गुप्तरोग हो गया है।  भार्गव ने कहा, उनकी उंगलियों और मुंह में एक गुप्तरोग है। जब तक वो अपनी उंगलियां नहीं चला लेते मोबाइल पर, जब तक अपने मुंह से कुछ देश के खिलाफ बयान नहीं दे देते, तब तक दिग्विजय सिंह को भोजन नसीब नहीं होता।