minister-sajjan-singh-verma-statement-on-decision-to-repeal-article-370

भोपाल| जम्‍मू-कश्‍मीर को लेकर केंद्र सरकार की ओर से सोमवार को लिए गए ऐतिहासिक फैसले के बाद देश भर में जश्न का माहौल देखने को मिल रहा है| भाजपा नेताओं ने मोदी सरकार के इस बड़े फैसले का स्वागत किया है, वहीं जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाए जाने को लेकर सरकार के फैसले पर मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस विरोध कर रहा है|  राज्यसभा में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने आज संविधान का खून किया है। गुलाम नबी आजाद ने कहा कि उनकी पार्टी संविधान के साथ खड़ी है। वहीं मध्य प्रदेश के कांग्रेस नेताओं ने भी इसका विरोध किया है| कमलनाथ सरकार में मंत्री सज्जन सिंह वर्मा का बड़ा बयान सामने आया है| 

मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर में भय का महौल बना हुआ है। बहुमत की सरकार है कुछ भी कर सकती है। हम उनका क्या बिगाड़ लेंगे। उन्होंने कहा डर के साए में धारा 370 को हटाने का फैसला लिया गया है। पहले लोकसभा में चर्चा होनी थी, फिर राज्यसभा में प्रस्तुत किया जाना था। लेकिन धारा 370 को हटाने का फैसला नियमानुसार नहीं लिया गया। देश में भय का माहौल बनाकर जनता पर निर्णय थोपना अघोषित इमरजेंसी के बराबर है।

मंत्री वर्मा ने शिवराज सिंह च��हान पर निशाना साधते हुए कहा पूर्व मुख्यमंत्री तो सरकार गिराने में व्यस्त हैं। इसलिए महाकाल को ज्यादा समय नहीं दे पा रहे हैं। क्योंकि नम्बर वन और टू की बात करने वालों के दो विकेट हमने गिरा दिए हैं।