भाजपा सांसद को लेकर ये क्या बोल गए शिवराज, मांगनी पड़ी माफी, वीडियो वायरल

mistake-in-speech-of-shivraj-singh-chauhan-in-up--video-viral

भोपाल।

इन दिनों सोशल मीडिया पर मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज का एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो एक सभा का बताया जा रहा है, इसमें शिवराज कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों और भाजपा नेताओं से माफी मांगते हुए नजर आ रहे है। इसके पीछे वजह सांसद अंशुल वर्मा बताया जा रहे जिन्हें शिवराज ने महिला समझ कर  ‘बहन’ बोल दिया था।वीडियो उत्तर प्रदेश के हरदोई का बताया जा रहा है और अब तेजी से वायरल हो रहा है।यूजर्स जमकर मामा शिवराज की चुटकी ले रहे है।

दरअसल, लोकसभा चुनाव की तैयारियों मे जुटे शिवराज इन दिनों यूपी-बंगाल के दौरे कर रहे है। सोमवार को वे यूपी के हरदोई में सेक्टर संयोजकों की बैठक में शामिल होने पहुंचे थे। वहां अपने भाषण की शुरुआत करते हुए शिवराज ने परंपरा के अनुसार मंच पर बैठे अतिथियों के नामों का संबोधन किया।नेताओं और कार्यकर्ताओं को संबोधित करते वक्त शिवराज सिंह चौहान हरदोई के सांसद अंशुल वर्मा के लिए बोले-‘बहन श्रीमती…!’ हालांकि जब उन्हें अपनी गलती का एहसास हुआ, तो वे कुछ पल रुक गए। फिर शिवराज ने मजाकिया लहजे में कहा कि,’जब मंच पर 2 महिला सांसद (अंजू बाला और रेखा वर्मा) बैठी हों, तो तीसरी(अंशुल वर्मा) भी बहन लगने लगती है, क्योंकि मैं मामा हूं तो मुझे तो हर महिला बहन लगती है।’ शिवराज सिंह के इतना कहते ही कार्यक्रम में ठहाके लगने लगे। इसके साथ ही शिवराज ने माफी मांगते हुए अपनी बात में सुधार किया। उन्होंने आगे, ”माफ करें आदरणीय अंशुल वर्मा जी।” अब सोशल मीडिया पर इसका वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है।इस वीडियो को हरदोई के पेशे से शिक्षक शिवम कुमार तिवारी ने अपनी फेसबुक वॉल पर शेयर किया है।

गलती के बाद की अ��ील

इसके बाद शिवराज ने सभा को संबोधित सभी उत्तर प्रदेश बीजेपी के साथियों से अपील की है कि सिर्फ भाषणबाजी से काम नहीं चलेगा। बूथ लेवल पर काम करना पड़ेगा। किस वर्ग के कितने लोग हैं, कौन हमारे साथ है और कौन नहीं यह देखना होगा। हमारे विरोध में खड़े लोगों को अपने साथ कैसे करें इस पर भी ध्यान देना होगा। सेंटर प्रभारियों को चार बातें ध्यान में रखनी होगी। पांव में चप्पल, मुंह में शक्कर, साइन पर आग और माथे पर बर्फ. रणनीति बनाओ तो सोच समझ के सबको साथ लेके बनाओ। पहले उत्तर प्रदेश में गुंडों का राज था लेकिन जबसे योगी जी की सरकार बनी तब से धीरे-धीरे अपराध समाप्त होता जा रहा है। स्वर्णिम भारत के लिए हमारे नेता नरेन्द्र मोदी को पुनः प्रधानमंत्री बनाना है, भाजपा की सरकार बनानी है।