आरिफ मसूद के बयान पर बोले रामेश्वर शर्मा, ‘स्वागत है जल्दी छोड़ें सदस्यता’

भोपाल। नागरिक संशोधन विधेयक के विरोध में भोपाल मध्य विधानसभा से काग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने बड़ा एलान किया है| उनका कहना है कि प्रदेश में CAB और NRC लागू किया तो मैं विधायक पद से इस्तीफा दे दूंगा।  उनके इस बयान के बाद बयानबाजी शुरू हो गई है| भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने मसूद के बयान पर पलटवार करते हुए कहा है कि विधेयक लागू होने पर विधायकी छोड़ने की बात करते है ऐसे लोगो का स्वागत है कि वह जल्द सदस्यता छोड़े । 

शुक्रवार को मीडिया से चर्चा में विधायक मसूद के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए बीजेपी विधायक शर्मा ने कहा नागरिकता संशोधन विधेयक कहाँ लागू होगा या नही यह भारत का संविधान तय करेगा आरिफ मसूद इसे तय करने वाले कौन होते है । उन्होंने कहा जो लोग जिन्ना की चाल चलेंगे वह पद भी छोड़े और अपने लिए नया स्थान भी चुनले । घुसपैठियों का समर्थन करने वाले, पाकिस्तान में हिन्दू धर्म की बेटियों के साथ दुराचार करने वालो और मंदिर तोड़ने वालों के पक्षधर है । 1947 में पंडित जवाहरलाल नेहरू द्वारा स्वीकार किये गए विभाजन को अब यह देश स्वीकर नही करेगा । हिंदुस्तान का मुसलमान यह शहीद अशफ़ाक उल्ला खां की संतान है इस देश ने मुसलमानो को सर्वोच्य पदों से नवाजा है । 

कांग्रेस विधायक ने किया था विरोध-इस्तीफे की दी चेतावनी 

नागरिक संशोधन विधेयक के विरोध में कांग्रेस विधायक मसूद ने बिना मुख्यमंत्री कमलनाथ का नाम लेते हुए कहा कि ‘मैं अपने नेता से कहूंगा कि जिस तरह बंगाल में ममता बनर्जी ने साहस दिखाया है। उसी तरह हमारी सरकार भी साहस दिखाए और प्रदेश में एनआरसी को लागू से रोके। यदि सरकार ने नहीं माना तो मैं विधानसभा का सदस्य नहीं रहूंगा।’