नई दिल्ली।

साल 2020  किसानों के लिए सौगात लेकर आने वाला है। नए साल में केन्द्र की मोदी सरकार किसानों को बड़ा तोहफा देने जा रही है। खबर है कि  2 जनवरी को पीएम मोदी सात करोड़ किसानो के बैंक खातों में सीधे ही किसान निधि के दूसरे चरण की राशि डालने जा रहे हैं।

मिली जानकारी के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी छह करोड़ किसानों के बीच 12,000 करोड़ की रकम जारी करेंगे। इसके लिए 6.5 करोड़ किसानों का डेटा उनके आधार से जुड़े बैंक अकाउंट के साथ वेरिफाई कर लिया गया है। मोदी सरकार 29 दिसंबर तक लगभग 9.2 करोड़ किसानों का डेटा इकट्ठा कर चुकी है। यह कार्यक्रम कर्नाटक के तुमकुर में 2 जनवरी को होगा। यहां किसानों का बड़ा सम्मेलन भी होगा।

इससे पहले मोदी सरकार 30 नवंबर, 2019 तक केंद्र सरकार पहली किश्त 7.62 करोड़ किसानों, दूसरी किश्त 6.5 करोड़ किसानों और तीसरी किश्त 3.86 करोड़ किसानों के लिए 35,955.66 करोड़ रुपये की रकम खातों में भेज चुकी है।अकेले 2019 में मोदी सरकार ने 6,000 करोड़ रुपये ट्रांसफर किए।

बता दे कि पीयूष गोयल ने अंतरिम वित्‍त मंत्री के तौर पर इस डायरेक्ट-बेनेफिट ट्रांसफर स्कीम का ऐलान किया था। इस योजना में 12 करोड़ छोटे और मार्जिनल किसानों (जिनके पास 2 हेक्टेयर से कम जमीन हो), उन्हें तीन किश्तों में 2000-2000 करके साल भर में 6000 रुपये की रकम देने की योजना थी। लोकसभा चुनाव 2019 में मिली जीत के बाद मोदी सरकार ने इस योजना का लाभ सभी किसानों को देने का फैसला किया था।

किसान खुद जानकारी ले सकते है

यदि आपने भी इस स्कीम का लाभ लेने के लिए आवेदन दिया है और अब तक बैंक अकाउंट  में पैसा नहीं आया है तो उसका स्टेटस जानना बहुत आसान हो गया है। केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी  ने बताया कि पीएम किसान पोर्टल  पर जाकर कोई भी किसान भाई अपना आधार, मोबाइल और बैंक खाता नंबर दर्ज करके इसके स्टेटस की जानकारी ले सकता है।कोई भी किसान पोर्टल पर जाकर खुद ही अपना रजिस्ट्रेशन कर सकता है।इसका मकसद सभी किसानों को स्कीम से जोड़ना और रजिस्टर्ड लोगों को समय पर लाभ पहुंचाना है।