मध्यप्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र 25 से 29 जुलाई तक, अधिसूचना जारी

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र 25 जुलाई से शुरू होगा, पाँच दिवसीय यह सत्र 29 जुलाई तक चलेगा, मध्यप्रदेश विधानसभा के मानसून सत्र में सरकार वित्तीय वर्ष 2022-23 का प्रथम अनुपूरक बजट प्रस्तुत करेगी, वही मध्यप्रदेश नगर पालिक विधि संशोधन और भू राजस्व संहिता संशोधन विधेयक भी सरकार लाएगी, पाँच दिवसीय सत्र की अधिसूचना विधानसभा के प्रमुख सचिव ने जारी की है।

यह भी पढ़ें… महाराष्ट्र में सियासी संग्राम : घमासान के बीच बागी नेता शिंदे का बड़ा बयान, उद्धव सरकार पर संकट से शरद पवार ने बनाई दूरी

गौरतलब है कि 18 जुलाई को चुनाव प्रक्रिया पूरी हो जाएगी, राज्य में त्रिस्तरीय (गांव, जनपद और जिला) पंचायत और नगरीय निकाय के चुनाव की प्रक्रिया 18 जुलाई को पूरी हो जाएगी और इसके एक सप्ताह बाद विधानसभा का मानसून सत्र शुरू होगा। मानसून सत्र की अधिसूचना जारी कर दी गई है, अब विधायकों को प्रश्न, ध्यानाकर्षण, याचिका और शून्यकाल की सूचना देने के लिए पर्याप्त समय मिल सकेगा। सत्र के दौरान वित्त विभाग चालू वित्त वर्ष के लिए प्रथम अनुपूरक अनुमान प्रस्तुत करेगा। यह पांच हजार करोड़ रुपये से अधिक होने की संभावना है। इसमें मुख्य रूप से अधोसंरचना विकास के कार्यों के लिए प्रावधान किया जाएगा। इसके साथ ही महापौर का चुनाव सीधे जनता के माध्यम से कराने के लिए मध्यप्रदेश नगरपालिका कानून अधिनियम में अध्यादेश के माध्यम से किये गये संशोधन के स्थान पर संशोधन विधेयक पेश किया जायेगा। वहीं मध्यप्रदेश राजस्व मंडल में पीठ गठित करने के प्रावधान के लिए भू-राजस्व संहिता में अध्यादेश के माध्यम से किये गये संशोधन के स्थान पर एक विधेयक पेश किया जायेगा।

मध्यप्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र 25 से 29 जुलाई तक, अधिसूचना जारी