मप्र में पिछले लोकसभा चुनाव से 10 फीसदी ज्यादा मतदान का टारगेट

More-than-10-percent-voting-target-in-last-Lok-Sabha-election-in-MP

भोपाल। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी व्ही. एल. कान्ता राव ने स्वीप पार्टनर्स से कहा है कि लोकसभा चुनाव-2019 में स्थानीय स्तर पर मतदाता जागरूकता के लिये व्यापक कार्य-योजना बनाकर क्रियान्वित करें। उन्होंने कहा कि एनवीएसपी के माध्यम से मतदाता सूची की अच्छी तरह जांच करें। कान्ता राव ने स्वीप पार्टनर्स की बैठक में यह निर्देश दिये। 2014 में के लोकसभा चुनाव की तुलना में 10 प्रतिशत से अधिक मतदान सुनिश्चित करें। लगभग 75 प्रतिशत तक मतदान बढ़ाने के लिये सभी स्वीप पार्टनर्स व्यापक प्रचार-प्रसार करें। 

सामाजिक न्याय विभाग दिव्यांग तथा बुजुर्ग मतदाताओं की सुविधा के लिये जिला स्तर पर निर्देश जारी करें। एनसीसी और एनएसएस वोटर्स के लिये वालिन्टियर का काम करें। खाद्य विभाग पेट्रोल पम्पों पर मतदान की तारीख के साथ मतदान के लिये प्रेरित करने के बैनर-पोस्टर लगवाएं। रेलवे द्वारा प्रदेश से गुजरने वाली ट्रेनों में फ्लेक्स, बैनर लगाकर प्रचार किया जाये। इसी प्रकार अन्य स्वीप पार्टनर्स मुख्यालय के साथ जिला स्तरीय क्षेत्र में अपने उपभोक्ताओं और आम जनता से मतदान करने की अपील का व्यापक प्रचार-प्रसार करें।

बैठक में संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अभिजीत अग्रवाल ने बताया कि स्वीप पार्टनर्स को जिंगल्स, वीडियो और अन्य सामग्री उपलब्ध कराई गई है। इसका डिस्प्ले, फ्लैक्स और अन्य माध्यमों से किया जाये। मतदाता जागरूकता के  अंतर्गत आयोग द्वारा अनुमोदित जिंगल्स, ऑडियो, प्रोमो  का प्रसारण किया जाये। कार्यालयों में डिस्प्ले सिस्टम के माध्यम से आयोग द्वारा अनुमोदित वीडियो/लघु फिल्म का प्रसारण किया जाये।