शिवराज बोले- कमलनाथ पैसों का रोना रो रहे, मंत्री ने दिया ऐसा जवाब

भोपाल| किसानों के मुद्दे पर भाजपा और कांग्रेस आमने सामने है| सड़कों पर प्रदर्शन करने के बाद अब सोशल मीडिया पर जंग छिड़ी हुई है| जिसमे दोनों ही पार्टी के नेता एक दुसरे पर आरोप लगा रहे हैं| इसी क्रम में कृषि मंत्री सचिन यादव ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर पलटवार किया है| भाजपा के किसान आंदोलन के दौरान शिवराज ने कमलनाथ सरकार पर हमला बोला था, जिसका जवाब देते हुए मंत्री यादव ने कहा किसानों के नाम पर राजनीतिक रोटियां सेंकना बंद कीजिए, किसानों के लिए कुछ करना चाहते तो दिल्ली चलिए| 

कृषिमंत्री सचिन यादव ने पूर्व सीएम शिवराज के ट्वीट पर जवाब देते हुए ट्वीट किया| शिवराज ने ट्विटर पर लिखा था ‘हम थे, जिन्होंने हर साल किसान को राहत की राशि बांटने में देर नहीं की। 32,701 करोड़ रुपया बांटा। कभी पैसों के अभाव का रोना नहीं रोया। कमलनाथ पैसों का रोना रो रहे हैं’| इसके जवाब में कृषिमंत्री ने जवाब देते हुए लिखा “हम थे तो मंदसौर मे किसानों को गोलियों मारी, हम थे तो 21 हज़ार किसानो ने आत्महत्या की, हम थे तो टीकमगढ़ मे किसानों को नग्न किया,  हम थे तो 50 हज़ार ₹ की कर्जमाफी का वादा किया और एक भी किसान की फूटी कौड़ी माफ नही की, हम जिस खेत मे उड़नखटोला उतारते थे उसी किसान को मुआवजा नही देते थे, ऐसी थी शिवराज जी आपकी सरकार”।

मंत्री ने आगे लिखा किसानों के नाम पर राजनीतिक रोटियां सेंकना बंद कीजिए, अगर सच मे किसान हितैषी है और किसानों के लिए कुछ करना चाहते तो चलिए दिल्ली, मप्र के किसानों के साथ भेदभाव करने वाली केंद्र सरकार के खिलाफ धरना देते है ।