एमपी : फरवरी के अंत में होगा उम्मीदवारों का ऐलान, 26 तक राहुल ने मांगे नाम

MP--Announcement-of-the-candidates-will-be-held-at-the-end-of-February

भोपाल।

एमपी में विधानसभा चुनाव में जीत के बाद पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी अपनी पूरी नजर लोकसभा चुनाव पर जमाए हुए है। कांग्रेस का फोकस इस बार 24  से ज्यादा सीटों पर है, इसलिए लगातार जिताऊ उम्मीदवार की तलाश की जा रही है।खबर है कि  फरवरी के अंत तक कांग्रेस उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर देगी, ताकी उन्हें संसदीय क्षेत्र में अधिक से अधिक प्रचार करने का समय मिल सके।इसके लिए पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने मुख्यमंत्री कमलनाथ और प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया से 26 फरवरी तक प्रदेश की सभी 29 लोकसभा सीटों के उम्मीदवारों के नाम मांगे हैं। बताया जा रहा है कि लिस्ट तैयार हो चुकी है, लेकिन कुछ सीटों पर नामों को लेकर अब भी चर्चा की जा रही है। इसके पीछे विधानसभा चुनाव के दौरान हुई अंतरकलह और गुटबाजी बताई जा रही है।उम्मीद की जा रही है कि अगले हफ्ते तक लिस्ट जारी कर दी जाएगी।

दरअसल,  लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने कमर कसना शुरू कर दिया है।  विधानसभा चुनाव की तरह कांग्रेस इस बार किसी भी सूरत में बीजेपी को किसी भी सीट पर वॉकओवर देने के मूड में नहीं है। इसी क्रम में पहला कदम प्रत्याशी चयन को लेकर चल रहा है। इसके लिए पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने 26 फरवरी तक प्रदेश की सभी 29 लोकसभा सीटों के उम्मीदवारों के नाम मांगे हैं। मुख्यमंत्री कमलनाथ और प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया उम्मीदवारों की सूची तैयार कर रहे हैं और अबतक कई सीटों पर समीक्षा भी कर चुके है। वही दूसरी तरफ कांग्रेस के पास सर्वे रिपोर्ट भी आ चुकी है जिसमें जिताउ उम्मीदवारों के नाम हैं।

अब तक इन सीटों की हो चुकी है समीक्षा 

सीएम ने लोकसभा सीटों की समीक्षा का क्रम 13 फरवरी से शुरु किया है जो 21 फरवरी को पूरा हो जाएगा। अभी तक टीकमगढ़, सतना, बालाघाट, उज्जैन, रीवा, मंदसौर, होशंगाबाद, धार, शहडोल और बैतूल लोकसभा सीटों से संबंधित बैठकें हो चुकी हैं। इन बैठकों में प्रभारी मंत्री, गृह जिले के मंत्री और स्थानीय विधायकों के अलावा उस क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों को भी बुलाया जा रहा है।

इन सीटों की समीक्षा होना बाकी  

जिन सीटों पर समीक्षा होना बाकी है उनमें सागर, खरगोन, मंडला, रतलाम,दमोह और विदिशा लोकसभा संसदीय क्षेत्र शामिल हैं। 21 फरवरी तक यहां पर भी उम्मीदवारों पर बात हो जाएगी।

राहुल ने भी कराया है सर्वे 

पिछले दिनों राहुल गांधी की भोपाल रैली के दौरान राहुल गांधी के मंच पर ज्योतिरादित्य सिंधिय़ा के सभी 29 लोकसभा सीटें जीतने की हुंकार से साफ है कि पार्टी के चुनावी सुर अब पूरी तरह से बदल गए हैंय़ अब तक प्रदेश में बीस से चौबीस सीटें जीतने का दम भर रहे कांग्रेस नेताओं को राहुल गांधी ने दो टूक सभी 29 सीटें जीतने का टास्क दिया है। इसके लिए इस बार  राहुल गांधी ने भी प्रदेश का सर्वे करवाया है। इस सर्वे में भी लोकसभा क्षेत्र से संभावित उम्मीदवारों की सूची बनाई गई है। राहुल अपने सर्वे और प्रदेश से आए नामों में से एक उम्मीदवार के नाम पर मुहर लगाएंगे। राहुल गांधी की अंतिम मुहर लगने के बाद उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया जाएगा।

चर्चा कर स्थिति भांप रहे बावरिया 

विधानसभा चुनाव की तरह लोकसभा चुनाव में भी प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया ने प्रदेश में डेरा डाला लिया हैं। वे प्रतिदिन अलग-अलग संगठनों से मुलाकात कर रहे हैं। बावरिया एनएसयूआई, युवा मोर्चा, व्यापारी संगठन, अनुसूचित जाति विभाग, उपभोक्ता प्रकोष्ठ,मछुआ संघ समेत कई अन्य क्षेत्रों के लोगों से मुलाकात कर चुके हैं। बावरिया लोकसभा चुनाव की दृष्टि से अलग-अलग यात्रा निकालने की योजना बना रहे हैं।साथ ही कार्यकर्ताओं में जोश भर संगठन को मजबूर करने में जुटे है।