चुनाव में पुलिस ने तस्करों पर कसा शिकंजा, अवैध मादक पदार्थ की जब्ती में दूसरे नंबर पर रहा मप्र

mp-become-Second-in-seizure-of-illegal-drug-during-election

भोपाल। लोकसभा चुनाव के दौरान मप्र पुलिस ने अवैध शराब एवं मादक पदार्थों के तस्करों पर शिकंजा कसा। यही वजह रही कि मप्र पुलिस कार्रवाई में देश के अग्रणी राज्यों में रही। चुनावा आयोग के अनुसार अवैध शराब, अवैध मादक पदार्थ गांजा, स्मैक, डोडा चूरा, ब्राउन शुगर, अफीम, नशीली दवाईयां इत्यादि एवं अवैध गहनों की जब्ती में मप्र पुलिस देश में दूसरे नंबर पर रही है। 

प्रदेश में 34 लाख 74 हजार लिटर अवैध शराब,20 हजार588 किलोग्राम अवैध मादक पदार्थ एवं 1 हजार 719 किलोग्राम गहनें मसलन सोना व चांदी धातुएं  जब्त की गईं। साथ ही 12 करोड़ 24 लाख कीमत के  वाहन, लैपटॉप व अन्य सामग्री जब्त कर मध्यप्रदेश पूरे देश में अव्वल रहा है। पुलिस द्वारा लगभग 31 करोड़ 74 लाख रूपये की धनराशि जब्त की गई। कुल मिलाकर मध्य प्रदेश में लगभग 100 करोड़ रूपये की जब्तियां की गईं।

9 हजार से ज्यादा हथियार जब्त

चुनाव प्रक्रिया के दौरान 9 हजार 250 अवैध हथियार व 1 हजार 511 कारतूस मध्यप्रदेश पुलिस ने जब्त किए गए। साथ ही 9हजार 430 विस्फोटक आयटम व 39 बम भी बरामद किए। प्रदेश भर में विभिन्न मार्गों पर 441 नाके स्थापित किये गए थे। इन नाको पर एफएसट, एसएसटी व अन्य पुलिस टीम द्वारा 24 हजार 421 कार्रवाईयां कर लगभग 58 करोड़ 36 लाख रुपए कीमत की अवैध शराब, अवैध मादक पदार्थ व अन्य सामग्रियां जब्त की गई।

साढ़े तीन लाख केसों में प्रतिबंधात्मक कार्रवाई

लोकसभा चुनाव को निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण ढ़ंग से संपन्न कराने के मकसद से चलाए गए अभियान के तहत पुलिस द्वारा प्रदेश भर में 3 लाख 57 हजार 910 प्रकरणों में प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की गई। पुलिस ने  77  हजार 183 गैर जमानती वारंट तामील कराए ।