MP Board 12th 2020 : Exam से पहले मंडल ने फिर जारी किए ये दिशा-निर्देश

4451

भोपाल।
कोरोना संकटकाल (corona crisis) के बीच 9 जून से जारी होने वाली 12वीं की परीक्षाओं(exams) को लेकर मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (MPBSE) द्वारा विशेष सतर्कता बरती जा रही है। इसके लिए बार बार मंडल द्वारा गाइन लाइन जारी की जा रही है।शुक्रवार को फिर माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) ने नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं।जिसके अनुसार अगर किसी विद्यार्थी का तापमान सामान्य से अधिक आता है या उसमें सर्दी-खांसी, जुकाम जैसे लक्षण दिखाई दिए तो परीक्षा केंद्रों पर बने आईसोलेशन कक्ष में बैठकर परीक्षा देनी होगी।छात्रों का भविष्य बर्बाद ना हो इसके लिए यह फैसला लिया गया है।

मंडल द्वारा जारी दिशा निर्देशाों के अनुसार, प्रदेश भर में हर परीक्षा केंद्र पर एक आइसोलेशन रूम (Isolation room) तैयार करवाया जा रहा है, ताकी किसी छात्र को सर्दी-खांसी या बुखार हो तो उसे आइसोलेशन रूम में बैठाकर परीक्षा दिलाई जा सके। कक्षा 12वीं की परीक्षा में सर्दी, खांसी और हल्के बुखार वाले परीक्षार्थियों की परीक्षा न छूटे इसके लिए एमपी बोर्ड ने आइसोलेशन रूम (यानी रिजर्व रूम )बनाने की तैयारी की है। थर्मल स्क्रीनिंग के दौरान जिस भी परीक्षार्थी का तापमान (Temperature) तय मानकों से ज्यादा रहेगा उन्हें अलग से आइसोलेशन रूम में बैठाकर परीक्षा दिलवाई जाएगी। इतना ही नही परीक्षा में शामिल सभी शिक्षक, कर्मचारी एवं अन्य अमले की भी नियमित रूप से स्क्रीनिंग कराई जाएगी। सभी को मास्क पहनना अनिवार्य है

परिवार में किसी को कोरोना तो नही दें सकेंगे परीक्षा

जारी निर्देश के अनुसार, अगर उनके परिवार के किसी सदस्य को कोरोना है या फिर परिवार का कोई सदस्य क्वारेंटाइन है तो ऐसे परीक्षार्थी कक्षा 12वीं की परीक्षा में शामिल नहीं हो सकेंगे. परीक्षा केंद्र में शामिल हो रहे परीक्षार्थियों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए एमपी बोर्ड ने ऐसे निर्देश दिए हैं

एक घंटे पहले पहुंचना होगा
12वीं के परीक्षार्थियों को एक घंटे पहले ही सेंटर पहुंचना होगा। यहां स्क्रीनिंग के बाद उन्हें प्रवेश दिया जाएगा। कोरोना को लेकर शारीरिक दूरी का ध्यान रखते हुए सभी को दूर-दूर बैठाया जाएगा।

ऑनलाइन आवेदन न करने पर भी दे सकेंगे परीक्षा
यदि कोई छात्र निर्धारित तिथि में ऑनलाइन आवेदन नहीं कर पाया है, तो ऐसे छात्र को जिला शिक्षा अधिकारी छात्र के आवेदन पर ही परीक्षा में शामिल कर सकेंगे तथा इसकी सूचना माध्यमिक शिक्षा मण्डल को देंगे। मण्डल ने यह सुविधा इसलिये दी है कि कोई भी छात्र परीक्षा देने से वंचित न रहे।

सोशल डिस्टेंसिंग का होगा पूरा पालन

सोशल डिस्टेंसिंग के लिये जिले में (सम्पूर्ण केन्द्र परिवर्तन को छोड़कर) निर्धारित उप केन्द्र पर शामिल छात्रों के प्रवेश-पत्र मूल परीक्षा केन्द्र के नाम से ही जारी किये गये हैं। संबंधित जिला शिक्षा अधिकारी एवं केन्द्राध्यक्ष छात्रों को उप केन्द्र की जानकारी देना सुनिश्चित करेंगे। जिन जिलों में सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के लिये सम्पूर्ण केन्द्र परिवर्तन किये गये हैं, उन छात्रों के प्रवेश-पत्र नवीन शिक्षा केन्द्र अंकित कर जारी किये गये हैं।

कोरोना वाले क्षेत्रों में खास सावधानी
जहां कोरोना ज्यादा फैला है, मरीजों की संख्या अधिक है वहां अधिक सावधानी रखी जा रही है। खास करके रेड जोन वाले इलाकों में कडी निगरानी रखी जा रही है।इसके अलावा परीक्षा केंद्रों (Examination Centers) पर स्वास्थ्यकर्मी भी तैनात होंगे। कंटेनमेंट क्षेत्र (Containment Area) में कोई भी परीक्षा केंद्र नहीं बनाया गया है। कंटेनमेंट क्षेत्र में बने आठ परीक्षा केंद्रों को बदलकर उनके स्थान पर निजी स्कूल व कॉलेजों (Private Schools & Colleges) में नए परीक्षा केंद्र बनाए जा रहे हैं। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा कंटेनमेंट क्षेत्र में रहने वाले बच्चों को चिन्हित किया जा रहा है। कंटेनमेंट क्षेत्र में रहने वाले छात्रों के आने-जाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा बस या अन्य वाहन का इंतजाम किया जाएगा। इसके अलावा कंटेनमेंट क्षेत्र के छात्रों को परीक्षा केंद्र में एक अलग कक्ष में बैठाया जाएगा।

बता दे कि एमपी बोर्ड की 12वी की कुछ पेपर की परीक्षा अभी बची हुई थी। ये परीक्षा अब दो महीने से भी ज्यादा समय तक जारी लॉकडाउन के कारण नहीं हो सके थे। अब ये परीक्षा 9 जून से शुरू हो रही है। एमपी बोर्ड के अनुसार इन परीक्षाओं का संचालन 16 जून तक होगा। ऐसे में अगर आप भी एमपी बोर्ड के छात्र हैं तो आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here