MP उपचुनाव: कांग्रेस की सोशल मीडिया एक्टिविटी ने बढ़ाई शिवराज-सिंधिया की चिंता

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट

एमपी की 27 सीटों पर उपचुनाव (By-election) की तारीखों का ऐलान कभी भी हो सकता है। इसके पहले  बीजेपी-कांग्रेस (bjp-congress) की तैयारियों जोरों शोरों पर चल रही है। दोनों दलों के बीच जुबानी जंग पूरे शबाब पर है, खास करके दोनों दलों का फोकस ग्वालियर-चंबल की 16 सीटों पर है। सत्ता में होने के बावजूद बीजेपी को हार का डर सताने लगा है , इसका कारण कांग्रेस का सोशल मीडिया पर अटैकिंग मोड में आना है। कमलनाथ सरकार (kamalnath sarkar) के गिरने के बाद से ही कांग्रेस ने सोशल मीडिया (social media) पर सिंधिया समर्थकों और बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। हर मुद्दे को कांग्रेस जोरों-शोरों से भुनाने में लगी हुई है। इसको लेकर मुख्यमंत्री ने चिंता जाहिर की है।

दरअसल, उपचुनाव से पहले कांग्रेस के सोशल मीडिया पर एक्टिव होने से बीजेपी में हलचल तेज हो गई है।इसी के चलते मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान,(CM Shivraj Singh Chouhaan) प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) समेत बीजेपी के दिग्गज नेताओं के बीच वर्चुअल बैठकों का दौर तेजी से चल रहा है।आज सोमवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया मप्र दौरे पर है, इसके पहले शनिवार-रविवार को बीजेपी में मैराथन बैठके हुई, जिसमें शिवराज ने बीजेपी की सोशल मीडिया की कार्यशैली को लेकर नाराजगी दिखाई, जिस पर सिंधिया ने भी सहमति जताई।

बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि इस पूरे कोरोना काल में कांग्रेस सोशल मीडिया पर आक्रमक रवैया अपनाए हुए है।हर मुद्दे को आधार बनाकर कांग्रेस हमारे मंत्रियों की घेराबंदी कर रही है। खास बात ये है सिंधिया ने भी शिवराज की नाराजगी पर सहमति जताई।सिंधिया ने माना कि एमपी कांग्रेस ट्वीटर पर बीजेपी की अपेक्षा ज्यादा अटैकिंग मोड पर है और एक्टिव है।उपचुनाव को देखते हुए बीजेपी को भी अब आक्रमण मोड में आना होगा।

ईंट का पत्थर से देंगे जवाब-सिंधिया

सिंधिया ने यहां तक कहा कि कांग्रेस घृणित राजनीति करते हुए प्रहार करेगी, लेकिन हम मिलकर कांग्रेस की हर ईंट का जवाब पत्थर से देंगे। कोरोना महामारी को देखते हुए सावधानी जरूरी है, लेकिन इसके साथ ही जनता के बीच उपस्थिति भी दर्ज करानी है। हमारा वोटिंग प्रतिशत अधिक हो इस बात पर हमें विशेष जोर देना है। सिंधिया ने सोशल मीडिया और मीडिया पर कांग्रेस को मुखरता के साथ जवाब देने और कांग्रेस द्वारा जनता के साथ किए गए धोखे और और झूठ को बेनकाब करना है।

चंबल का पानी क्रांतिकारी, ग़द्दारों को सिखाएगा सबक़-दिग्विजय

इधर, इस पूरे घटनाक्रम पर राज्यसभा सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने तंज कसा है। दिग्विजय ने ट्वीट कर कहा है कि भाजपा अब घबराई हुई जब कॉंग्रेस से ग़द्दारी कर भाजपा में गये लोगों का जनता तिरस्कार कर मोहल्लों और गाँवों में नहीं घुसने दे रही है।और भाजपा को सोशल मीडिया पर फेक न्यूज़ का समर्थन नहीं मिलने पर शिवराज और महाराज दोनों चिंतित हैं। चंबल का पानी क्रांतिकारी है ग़द्दारों को सबक़ सिखाएगी।

आज फिर ट्वीटर पर कांग्रेस ने सिंधिया समर्थकों को घेरा
इतना ही नही कांग्रेस ने आज सोमवार को जब सिंधिया मप्र के दौरे पर है, ट्वीटर के माध्यम से सरकार पर जमकर निशाना साधा है। कांग्रेस ने ट्वीट कर लिखा है कि करोड़ों में भर लिया अपना पेट,अब जनता चुनाव का खर्च वहन करेगी।मप्र के 25 विधायक जनादेश को बेचकर आनंदित हो रहे हैं, वहीं उपचुनाव में आने वाला करोड़ों रुपये का ख़र्च जनता का पेट काटकर वसूला जाएगा।शिवराज जी,सत्ता हवस आपकी पूरी हुई, और ख़र्चा जनता उठाये..? “शर्म करो शवराज”। यह पहला मौका नही है, इसके पहले भी कांग्रेस कई बार सिंधिया समर्थकों और शिवराज सरकार को घेर चुकी है। भाषणों के वीडियो जारी कर कमलनाथ सरकार में मंत्री रहे सिंधिया समर्थकों को घेरा जा रहा है। अब देखना दिलचस्प होगा कि बीजेपी इसका कैसे जवाब देती है।

(भोपाल से पूजा खोदाणी की रिपोर्ट)