भोपाल| मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के नाम संबोधन में मध्य प्रदेश के अधिकारी- कर्मचारियों के लिए बड़ी घोषणा की है। दरअसल कल वित्त विभाग ने इस बात के निर्देश दिए थे कि प्रदेश सरकार ने जो पांच प्रतिशत महंगाई भत्ता बढ़ाया है उसे निरस्त कर दिया गया है लेकिन मुख्यमंत्री ने इसे साफ करते हुए कहा कि इसे निरस्त नहीं किया गया बल्कि केवल स्थगित किया गया है ।
मुख्यमंत्री ने कारण बताते हुए कहा कि कोरोना महामारी के चलते मध्यप्रदेश में इस वित्तीय वर्ष में होने वाले राजस्व आय में कुल 25% की कमी आई है और 10% की वृद्धि हर साल हुआ करती थी वह भी नहीं हुई है और प्रदेश में आर्थिक स्थिति बहुत ज्यादा ठीक नहीं है । इसीलिए इसे स्थगित करने का निर्णय लेना पड़ा। कर्मचारियों से उन्होंने यह भी कहा कि हभी जानते हैं कि 15 साल की सरकार में शिवराज सरकार ने हमेशा कर्मचारियों के हित में ही निर्णय लिए हैं। पहले भी हमारी सरकार ने कर्मचारियों को डीए देने में कोई कमी नहीं छोड़ी है आगे भी कोई कमी नहीं आएगी |