भाजपा नेता का दावा -MP की सभी सीटे जीतेगी BJP, खुद के चुनाव लड़ने को लेकर कही ये बात

mp-chintamani-malviya-said--bjp-won-29-seat-in-loksabha-election-2019

भोपाल

लोकसभा चुनाव से पहले नेताओं द्वारा एक के बाद एक जीत के दावे किए जा रहे है। यहां तक की नेता चुनाव में कितनी सीटे मिलेंगी इसका भी दावा करने से पीछे नही हट रहे है। शनिवार को छिंदवाड़ा में मीडिया से चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश में 22  से ज्यादा सीटे मिलने का दावा किया था, और अब उज्जैन से भाजपा सांसद चिंतामणि मालवीय ने 29  की 29  सीटे जीतने का दावा किया है। मालवीय का कहना है कि इस बार मध्यप्रदेश रिकॉर्ड बनाएगा और 29  की 29  सीटें बीजेपी जीतेगी।वही खुद की दावेदारी पर मालवीय ने कहा कि जो पार्टी का फैसला होगा वही करेंगें।पार्टी कहेगी कार्यालय की व्यवस्था देखनी है, झाडू लगाना है तो वही करेंगें। अगर पार्टी चुनाव लड़ने को बोलेगी तो चुनाव भी लड़ेंगें।

दरअसल, टिकट की दावेदारी के लिए नेता संगठन मंत्री सुहास भगत और चुनाव समिति के सदस्यों से मिलने पहुंच रहे है।  शनिवार को उज्जैन सांसद चिंतामणि मालवीय भी मंत्री सुहास भगत से मिलने पहुंचे थे, जहां मीडिया से चर्चा के दौरान खुद के चुनाव लड़ने पर मालवीय ने कहा कि दावेदारी का सवाल ही नही उठता, इसका फैसला संगठन को करना है, पार्टी जो भी फैसला करेगी मंजूर होगा। संगठन सब जानता है, जब पूछेगा तो हम अपना सुझाव बताएंगें।संगठन जो काम बोलेगा वही करेंगें, संगठन कहेगा झाडू लगाओ तो झाडू लगाएंगें, पार्टी कहेगी चुनाव लड़ना है तो लड़ेंगें वरना नही। सीट बदलने के सवाल पर उन्होंने कहा कि संगठन में इनकी मर्जी के कोई मायने नहीं होते हैं, इसलिए पार्टी जो तय करेगा वहीं होगा। उर्जा, क्षमता और सामर्थ्य के साथ कार्य किया जाएगाा।

इससे पहले शुक्रवार को उज्जैन-आलोट संसदीय क्षेत्र के लिए भाजपा प्रत्याशी को लेकर भोपाल में रायशुमारी हुई थी। यहां पार्टी के वरिष्ठों की पांच टीम ने अलग-अलग सीटों से जुड़े चुनिंदा भाजपाइयों से चर्चा की है।  विधायक पारस जैन, डॉ.मोहन यादव, बहादुरसिंह चौहान, महापौर मीना जोनवाल, नगराध्यक्ष विवेक जोशी, जिला ग्रामीण अध्यक्ष श्याम बंसल, लोकसभा संयोजक सुल्तान सिंह शेखावत से उपाध्यक्ष प्रभात झा व महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने चर्चा की। पूछा आपकी नजर में प्रत्याशी कौन और कैसा होना चाहिए तो सभी ने एक स्वर में कहा कि जिसे टिकट दोगे जीता लाएंगे। जब दोनों वरिष्ठ नेताओं ने कहा कि कोई अकेले में भी बात रखना चाहता हैं तो रख सकता हैं। तब चार नेताओं ने अलग से बात रखी। दावेदारों में सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीय, महापौर मीना जोनवाल, सुरेश गिरी, अनिल फिरोजिया, अशोक मालवीय, रामेश्वर अखंड के नाम हैं। 

उज्जैन से ये नाम चर्चा में

– सांसद चिंतामणि मालवीय – मौजूदा सांसद होने व पिछली बार बड़े अंतर की जीत से स्वाभाविक उम्मीदवारी। ५ साल तक जनता के बीच बने रहे।

– सुरेश गिरि, नगर महामंत्री – विधानसभा में एेनवक्त पर टिकट से नाम कटा, संघ की पसंद का नाम। लंबे समय से सक्रिय, जातिगत संतुलन भी।

– सतीश मालवीय, पूर्व विधायक – उच्च स्तरीय राजनीति में घट्टिया से टिकट कटा, अब लोकसभा में दावेदारी। अजा मोर्चा के राष्ट्रीय महासचिव व केंद्रीय मंत्री के करीबी।

– मीना जोनवाल, महापौर – कुछ समय से लोकसभा सीट के लिए दावेदारी शुरू की। महिला प्रतिनिधित्व के तौर पर नाम आगे बढ़ाया। महापौर कार्यकाल की उपलब्धियों का सहारा।

– इसके अलावा भाजपा से राज्यसभा सांसद सत्यनारायण जटिया, अनिल फिरोजिया, पूर्व रामेश्वर अखण्ड के नाम भी चर्चाओं में है