MP College : सत्र 2022 -23 के लिए इस दिन से शुरू होगी ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया

विद्यार्थियों को TC अथवा माइग्रेशन जमा करने की आवश्यकता नहीं होगी।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। नए शैक्षणिक सत्र 2022-23 में छात्र छात्राओं को प्रवेश (MP College Admission Process) देने के लिए उच्च शिक्षा विभाग (MP Higher Education Department) ने तैयारी पूरी कर ली है। उच्च शिक्षा मंत्री डॉ मोहन यादव ने जानकारी दी है कि नए शैक्षणिक सत्र में प्रदेश के शासकीय और प्राइवेट कॉलेजों में UG और PG के पाठ्यक्रमों में प्रवेश की ऑनलाइन प्रक्रिया 17 मई 2022 से शुरू होगी।

डॉ मोहन यादव (Higher Education Minister Dr. Mohan Yadav) के मुताबिक 17 मई से शुरू होने वाले ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया में एक चरण एवं तीन सीएलसी राउंड होंगे। उन्होंने कहा कि इस चरण एवं सीएलसी में अपग्रेडेशन की प्रक्रिया का भी समावेश होगा इससे प्रवेश पर प्रक्रिया कम समय में संचालित हो सकेगी। मंत्री डॉ यादव ने कहा कि सीएलसी की प्रक्रिया ऑनलाइन किये जाने से स्टूडेंट्स को कॉलेज नहीं आना पड़ेगा।

प्रवेश प्रक्रिया में ये किये संशोधन 

उच्च शिक्षा मंत्री ने बताया कि इस वर्ष प्रवेश प्रक्रिया में स्टूडेंट्स की सुविधा को देखते हुए कई संशोधन किए गए हैं।  प्रवेश प्रक्रिया के चरण एवं सीएलसी में रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया लगातार संचालित रहेगी। आवेदक विद्यार्थी अधिकतम 15 महाविद्यालय चयन कर सकेंगे। विद्यार्थियों के स्कैन दस्तावेज़ के आधार पर हेल्प सेंटर पर ऑनलाइन सत्यापन की कार्रवाई की जाएगी, जिन आवेदक विद्यार्थियों के स्कैन दस्तावेज़ अस्पष्ट होंगे ऐसे आवेदकों को संबंधित महाविद्यालय द्वारा SMS अथवा दूरभाष पर सूचित किया जाएगा। आवेदक को निर्धारित समय सीमा में महाविद्यालय में उपस्थित होकर मूल दस्तावेजों के आधार पर सत्यापन की कार्रवाई पूर्ण करनी होगी । उन्होंने बताया कि विद्यार्थियों को TC अथवा माइग्रेशन जमा करने की आवश्यकता नहीं होगी। आवेदक को ऑनलाइन आवेदन फ़ॉर्म में ही किसी अन्य संस्थान में नियमित प्रवेश न लेने का वचन पत्र प्रस्तुत करना होगा।

खिलाड़ियों के लिए सीटें सुरक्षित 

डॉ मोहन यादव ने बताया कि इस शैक्षणिक सत्र से हमने खेल कूद, कला संस्कृति, एनसीसी, एनएसएस, रेडक्रॉस आदि के विद्यार्थियों को प्रवेश प्रक्रिया में प्रत्येक महाविद्यालय में पांच- पांच सीटों की वृद्धि करते हुए आरक्षित कर आउट राइट प्रवेश दिए जाने का निर्णय लिया है। उन्होंने बताया कि आउट राइट के आवेदकों की संख्या अधिक होने पर गुणानुक्रम के आधार पर प्रवेश दिया जाएगा।

ये सुविधाएँ भी मिलेंगी 

उन्होंने बताया कि प्रवेश प्रक्रिया में विद्यार्थियों को अपग्रेडेशन के लिए ऑनलाइन शुल्क जमा करने के साथ ही ऑनलाइन सहमति या असहमति बतानी होगी। अपग्रेडेशन होने के पश्चात रिक्त स्थानों पर मैरिट के आधार पर आवेदकों को आवंटन पत्र जारी कर ऑनलाइन शुल्क जमा करने के लिए 3 दिन का समय दिया जाएगा। सीएलसी चरण में संपूर्ण प्रक्रिया महाविद्यालय स्तर पर ऑनलाइन संचालित की जाएगी। सीएलसी में भी अपग्रेडेशन की प्रक्रिया संचालित होगी । प्रवेश निरस्तीकरण के लिए आवेदकों ऑनलाइन आवेदन प्रस्तुत करना होगा ।