mp-Congress-may-bet-on-BJP's-face-in-Lok-Sabha-election

भोपाल| मध्य प्रदेश में नेताओं की विधानसभा चुनाव की थकान भी नहीं मिटी कि लोकसभा की तैयारियां शुरू हो गई है| कोई किसी से पीछे न रहे जाए इसलिए बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही पार्टियों ने रणनीतियां बना शुरू कर दिया है| भाजपा शासित तीन राज्यों में मिली हार के बाद बीजेपी के लिए यह चुनाव आसान नहीं होगा| वहीं तीन राज्यों में सरकार बनाने के बाद आत्मविश्वास से भरी कांग्रेस भी हार दांव आजमाने को तैयार है| क्यूंकि अब हाईकमान की उम्मीदें मध्य प्रदेश से बढ़ गई है, इसलिए प्रदेश में ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतने के लिए कांग्रेस अलग तरह की रणनीति बनाने में जुट गई है| इसके अलावा कांग्रेस एक बार फिर भाजपा के चेहरों को आजमाने की तैयारी में है|   भाजपा के दिग्गज नेता रहे सरताज सिंह और रामकृष्ण कुसमरिया पर कांग्रेस दावं लगा सकती है।

दरअसल, दोनों ही नेता विधानसभा चुनाव में सबसे ज्यादा सुर्ख़ियों में रहे| कारण अपनी ही पार्टी से नाराजगी| इसके बाद कुसमारिया जहां निर्दलीय लड़े तो सरताज को कांग्रेस ने टिकट दिया| हालाँकि वह हार गए| लेकिन उनकी हार के बाद भी कांग्रेस उन्हें एक और मौक़ा दे सकती है| क्यूंकि भाजपा की ओर से 5 बार सांसद रहे सिंह ने दिग्गज नेता अर्जुन सिंह को लोकसभा चुनाव में हराया था। फिर सिवनी मालवा से विधानसभा चुनाव लडकऱ हजारीलाल रघुवंशी को शिकस्त दी थी। अब कांग्रेस सरताज को होशंगाबाद लोकसभा सीट से उम्मीदवार बना सकती है।

सरताज को होशंगाबाद तो कुसमरिया को दमोह या खजुराहो से चुनाव में उतारा जा सकता है। इस मामले में सरताज का कहना है कि हम तैयार हैं। पार्टी जो कहेगी, उस भूमिका में उतर जाएंगे। वहीं, कुसमरिया ने कहा, कांग्रेस से बात करेंगे, अभी जल्दबाजी ठीक नहीं है। कुसमरिया पांच बार लोकसभा सदस्य रहे हैं। समीकरणों को देखते हुए कांग्रेस ने उन्हें दमोह व खजुराहो में गतिविधियां बढ़ाने को कहा है। हाल ही में उनकी और कमलनाथ की मुलकर के बाद सियासी गलियारों में चर्चा शुरू हो गई है| कांग्रेस को भी दमदार उम्मीदवार की तलाश है ताकि पिछली बार से अच्छा प्रदर्शन इस बार कर सके|