MP News : शिवराज कैबिनेट के फैसले से झूमे डॉक्टर्स, मेडिकल कॉलेज में जश्न का माहौल

Atul Saxena
Updated on -

MP News : मध्य प्रदेश के मेडिकल कॉलेजों में आज जश्न का माहौल है, मेडिकल टीचर्स खुश हैं , नाच रहे हैं, जश्न मना रहे हैं , एक दूसरे को मिठाई खिला रहे हैं और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को धन्यवाद से रहे हैं, इसकी वजह ये है कि मुख्यमंत्री ने मेडिकल टीचर्स की बरसों पुरानी मांगों को पिछले दिनों स्वीकार करने की घोषणा की थी और आज उसे कैबिनेट से मंजूरी मिल गई।

MP News : शिवराज कैबिनेट के फैसले से झूमे डॉक्टर्स, मेडिकल कॉलेज में जश्न का माहौल

डॉक्टर्स की DSCP की मांग मंजूर, कैबिनेट की मुहर लगी 

प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने शिवराज कैबिनेट के फैसलों की जानकारी  देते हुए डॉक्टर्स के मंजूर मांगों का भी जानकारी दी , उन्होंने बताया कि चिकित्सा शिक्षा विभाग से जुड़े चिकित्सकों और स्वास्थ्य विभाग से जुड़े चिकित्सकों की बरसों से मांग थी कि उनकी नौकरी अब डीएससीपी (डायनेमिक एश्योर्ड कैरियर प्रोग्रेशन) स्कीम के माध्यम से होने चाहिए जिसे सरकार ने स्वीकार कर लिया है ये एक ऐतिहासिक फैसला है।

डॉक्टर्स की वेतन वृद्धि की मांग सरकार ने स्वीकार की 

मंत्री ने बताया कि कैबिनेट ने चिकित्सकों के वेतनमान की मांग को लेकर भी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है, उन्होंने बताया कि शैक्षणिक संवर्ग के स्पेशलिस्ट डॉक्टरों के ग्रेड पे के लिये 3 वर्ष, 7 वर्ष और 14 वर्ष की सेवा अवधि को स्वीकृति दी गई है, इसमें 8 हजार, 9 हजार और 10 हजार का वेतनमान मिलेगा , चिकित्सा शिक्षा विभाग के प्रदर्शक और ट्यूटर जो एमबीबीएस चिकित्सक है उनकी सेवा अवधि को 5 वर्ष, 10 वर्ष, 15 वर्ष और 30 वर्ष किया गया है।

सीएम शिवराज को दिया डॉक्टर्स ने दिया धन्यवाद, जश्न का माहौल 

कैबिनेट के फैसले के बाद से मध्य प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेजों में जश्न का माहौल है , डॉक्टर्स खुशियाँ मना रहे हैं, गले मिल रहे हैं मिठाई खिला रहे हैं ढोल पर नाच रहे हैं और सीएम शिवराज को धन्यवाद दे रहे हैं, प्रोग्रेसिव मेडीकल टीचर्स एसोसिएशन, मध्य प्रदेश के अध्यक्ष डॉ सुनील अग्रवाल ने और मेडिकल टीचर्स एसोसियेशन के अध्यक्ष डॉ अखिलेश त्रिवेदी ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के दृढ़ संकल्प एवं चिकित्सकों के प्रति उनकी श्रद्धा एवं सकल्प के फलस्वरुप आज कैबिनेट से डीएसीपी (डायनेमिक एश्योर्ड कैरियर प्रोग्रेशन) स्कीम लागू होने पर प्रदेश के सभी चिकित्सा महाविद्यालयों एवं चिकित्सालयों में चिकित्सकों द्वारा जश्न मनाया जा रहा है हम सब बहुत खुश हैं।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News