MP News : विपक्षी गठबंधन INDIA की भोपाल रैली कैंसिल, सीएम शिवराज बोले- जनता के आक्रोश से डर है ये, सनातन का अपमान MP की जनता बर्दाश्त नहीं करेगी

Atul Saxena
Published on -

MP News : विपक्षी गठबंधन INDIA की भोपाल में प्रस्तावित रैली कैंसिल हो गई है, रैली के कैंसिल होने के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस और गठबंधन पर करारा हमला किया है, उन्होंने कहा कि ये जनता का आक्रोश है जिससे डरे हुए है और ये फैसला लेना पड़ा विपक्षी गठबंधन को।

कमल नाथ ने दी रैली कैंसिल होने की जानकारी 

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मीडिया के सवालों के जवाब में आज बताया कि भोपाल में होने वाली रैली कैंसिल हो गई है, उनकी ये बात सामने आते ही भाजपा ने विपक्षी गठबंधन पर हमला कर दिया, कमलनाथ के बयान के भाजपा मप्र में अपने ट्विटर हैंडिल पर पोस्ट किया और ट्वीट किया – सनातन विरोधी कांग्रेस के खिलाफ मध्य प्रदेश में जनाक्रोश। मध्य प्रदेश में सनातन विरोधी कांग्रेस के INDI एलायंस के खिलाफ ‘जनाक्रोश’ के कारण भोपाल में होने वाली रैली हुई रद्द। प्रदेश की जनता सनातन विरोधी कांग्रेस को देखना तक नहीं चाहती।

सीएम शिवराज बोले  सनातन का अपमान प्रदेश का जनता नहीं सह सकती 

विपक्षी गठबंधन (INDIA) की रैली रद्द होने की जानकारी आने के बाद सीएम शिवराज सामने आये उन्होंने एक बार फिर विपक्ष पर पलटवार करते हुए कहा कि जनता का आक्रोश है ये, सनातन धर्म का अपमान करोगे, डेंगू  और मलेरिया बोलोगे, ये सनातन का अपमान मप्र की जनता सहन नहीं कर सकती, हजारों साल पुरानी संस्कृति है, हमारे जीवन मूल्य, हमारे महापुरुष सबका अपमान करोगे ?

ये जनता के आक्रोश का डर, इसलिए रैली कैंसिल की : शिवराज 

शिवराज ने कहा कि ये INDI गठबंधन ये समझ ले कि उन्होंने हमारी आस्था पर चोट की है ये हमला किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जायेगा , मध्य प्रदेश की जनता के मन में रोष है, इनको डर था कि वह रोष कहीं प्रकट न हो जाए , इसलिए गठबंधन की रैली ही कैंसिल कर दी। जनता का आक्रोश कांग्रेस के खिलाफ है विपक्षी गठबंधन के खिलाफ है और वो आक्रोश तो  प्रकट होगा ही,  जनता छोड़ेगी नहीं।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News