MP पंचायत और निकाय चुनाव : निर्वाचन आयुक्त ने वरिष्ठ अधिकारियों को दिए महत्वपूर्ण निर्देश

श्री सिंह ने कहा कि ''स्‍थानीय निकायों के निर्वाचन से संबंधित महत्‍वपूर्ण अधिनियम'' और ''निर्वाचन के दौरान कानून एवं व्‍यवस्‍था'' संबंधी पुस्तिका जरूर पढ़ लें।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मप्र में पंचायत और नगरीय निकाय चुनावों (MP Panchayat and Municipal Elections) को लेकर तैयारियां तेज हो चुकी हैं, मप्र राज्य निर्वाचन आयोग (MP State Election Commission) चुनावों से जुड़ी गतिविधियों की निगरानी कर रहा है , समीक्षा कर रहा और दिशा निर्देश जारी कर रहा है। मप्र राज्य निर्वाचन आयुक्त बसंत प्रताप सिंह ने आज शनिवार को तैयारियों की समीक्षा करते हुए संभाग के कमिश्नरों और आईजी पुलिस को कई महत्वपूर्ण निर्देश दिए।

मप्र राज्य निर्वाचन आयुक्त बीपी सिंह (MP State Election Commissioner BP Singh) ने प्रदेश के सभी संभागों और पुलिस महानिरीक्षकों के साथ वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के माध्‍यम से निर्वाचन तैयारियों की समीक्षा की। आयुक्त ने समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि संभाग के कमिश्‍नर और आईजी पंचायत और नगरीय निकाय निर्वाचन के लिए आवश्‍यकतानुसार फोर्स, मेनपावर और मतदान पेटियों को एक से दूसरे जिले में भेजने की समीक्षा करें।

ये भी पढ़ें – MP हाई कोर्ट का कर्मचारी के लिए बड़ा फैसला, नियुक्ति तिथि से मिलेगा नियमित वेतनमान का लाभ

निर्वाचन आयुक्त बीपी सिंह ने कहा कि पंचायत एवं नगरीय निकाय निर्वाचन साथ-साथ हो रहे हैं, अत: सुरक्षा एवं कानून व्‍यवस्‍था पर विशेष ध्‍यान देने की जरूरत है। प्रदेश में निष्‍पक्ष और शांतिपूर्ण निर्वाचन के लिए हर संभव कदम उठायें। ऐसा प्रयास हो कि कहीं भी अप्रिय स्थिति नहीं बने। जिलेवार समीक्षा कर लें। श्री सिंह ने कहा कि ”स्‍थानीय निकायों के निर्वाचन से संबंधित महत्‍वपूर्ण अधिनियम” और ”निर्वाचन के दौरान कानून एवं व्‍यवस्‍था” संबंधी पुस्तिका जरूर पढ़ लें।

ये भी पढ़ें – राष्ट्रीय स्तर पर MP की बड़ी उपलब्धि, सीएम शिवराज ने दी बधाई, कही बड़ी बात

उन्होंने कहा- आदर्श आचरण संहिता का पालन सुनिश्चित करें। प्रतिबंधात्‍मक कार्यवाही, एनएसए, अवैध शराब की बिक्री पर रोक आदि की कार्यवाही करवायें। मतपत्रों की प्रिंटिंग व्‍यवस्‍था का निरीक्षण करें, जिससे समय पर कार्य हो सके।

ये भी पढ़ें – कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, सेवानिवृत के दिन ग्रेच्युटी-पेंशन का होगा निस्तारण, इन्हीं मिलेगा 10 हजार रूपए मानदेय

राज्‍य निर्वाचन आयोग के सचिव राकेश सिंह ने निर्वाचन कार्यक्रम, मतदान दल गठन, सुरक्षा प्रबंध, शस्‍त्र लाइसेंस निलंबन, संपत्ति विरूपण, आदि के संबंध में चर्चा की। उन्‍होंने कहा कि विकासखण्‍ड स्‍तरीय मतगणना का प्रस्‍ताव आने पर अपने स्‍तर पर इसकी समीक्षा जरूर कर लें।

MP पंचायत और निकाय चुनाव : निर्वाचन आयुक्त ने वरिष्ठ अधिकारियों को दिए महत्वपूर्ण निर्देश