MP News : बेरोजगारों पर गोली, महिलाओं से बदसलूकी, कांग्रेस नेता बोले- मुझे मरवा सकते शिवराज

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना संकटकाल में बढ़ती बेरोजगारी को लेकर युवाओं का गुस्सा जमकर राज्य की शिवराज और केन्द्र की मोदी सरकार (Shivraj of state and Modi government of center) पर फूट रहा है।सड़क से लेकर सोशल मीडिया (social media) तक युवा विरोध प्रदर्शन कर रहे है। बेरोजगार हटाओ-रोजगार दो के कैंपन चलाए जा रहे है। शुक्रवार को भोपाल के साथ साथ भिंड जिले में भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं (Congress workers) ने युवाओं के संग जमकर प्रदर्शन किया।लेकिन देखते ही देखते प्रदर्शन में हंगामा हो गया। इस दौरान गोलियां भी चली हालांकि किसी को कोई चोट नही पहुंची। इस दौरान युवाओं की कांग्रेस की जिला महामंत्री ममता मिश्रा (District General Secretary Mamta Mishra) के साथ झूमाझटकी हो गई, जिसके बाद से कांग्रेस में जमकर आक्रोश है। कांग्रेस ने दोषिय़ों की गिरफ्तार और कार्रवाई की मांग की है।

दरअसल, कांग्रेस नेता देवाशीष जरारिया (Congress leader Devashish Jararia) ने आरोप लगाया है कि भिंड में बेरोजगारी के विरुद्ध युवा जनांदोलन से डरे हुए भाजपा के लोगो ने धरने पर हमला किया गोलियां चलाई।लेकिन हम धरने पर डटे रहे और समय पूरा कर ही उठे।उसके बाद पूरे मामले को लेकर पुलिस FIR दर्ज करवाई।बेरोजगारी के विरुद्ध युवा जनांदोलन में भाजपा वालो ने पहले तो मारपीट की उसके बाद गोलियां चलाई।उनका मकसद मुझे जान से मारने का था, क्योंकि मैं युवाओँ की आवाज उठा रहा हूँ।युवा समर्थन देख भाजपा डरी हुई है। भाजपा वालो मुझ पर हमला करो मुझे मार दो पर युवाओं को रोजगार दो। हमारी यही मांग है।कार्यक्रम पर भाजपा के गुंडों ने चलाई गोली।शिवराज जी मुझे जान से मरवा सकते है।

जरारिया का आरोप है कि बेरोजगारी के विरुद्ध युवा आंदोलन में भाजपा के गुंडों का हमला कार्यक्रम स्थल पर तोड़फोड़ की। युवा को रोजगार की आवाज से इतना डर क्यों।मुझ पर हमला करने की कोशिश।हम किसी की गुंडागर्दी से डरने वाले नही है। हम बाबा साहेब और गांधी जी के पदचिन्हों पर चलने वाले लोग है।

जरारिया ने कहा कि बेरोजगारी के विरुद्ध युवा जनांदोलन पर भाजपाइयों द्वारा हमला किया गया महिलाओं से बदसलूकी की।अरे युवा रोजगार मांग रहा है और भाजपा वाले लात घूसे मार रहे है।युवा सब देख रहा है।सब याद रखा जाएगा। बेरोजगारी के विरुद्ध युवा जनांदोलन से डरे हुए बीजेपी के लोगो ने धरने पर हमला किया और गोलियां चलाई। हम धरने पर डटे रहे और समय पूरा करने के बाद ही उठे। उसपूरे मामले को लेकर पुलिस को एफआईआर दर्ज करने के लिए आवेदन दिया गया है।

बता दे कि भोपाल में भी बेरोजगारों द्वारा किए गए प्रदर्शन में जमकर हंगामा हुआ था। युवा शिवराज सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए सड़क पर बैठ गए थे, पुलिस ने युवाओं को रोकने की कोशिश की तो वे नही माने । इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया और करीब 50 से ज्यादा लड़के लड़कियों को गिरफ्तार करके गाड़ी में ले गई है। इस दौरान कई युवाओं को चोट भी लगी और वे बुरी तरह से घायल हो गए। इस दौरान पूर्व मंत्री पीसी शर्मा और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय भी मौके पर पहुंचे थे।

कांग्रेस नेताओं ने की हमले की निंदा
पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह (Former Chief Minister and senior Congress leader Digvijay Singh) ने इस पूरे घटनाक्रम की निंदा की है। दिग्विजय ने ट्वीट कर लिखा है कि देवाशीष के नेतृत्व में बेरोज़गारों को रोज़गार देने के पक्ष में चल रहे आंदोलन में ABVP व भाजपा युवा मोर्चे के कार्यकर्ताओं द्वारा किए गए हमले का मैं विरोध करता हूँ। अपराधियों पर सख़्त कार्रवाई की जाए।वही कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रामनिवास रावत (Congress Working President Ramnivas Rawat) ने ट्वीट कर लिखा है कि भिंड मे कांग्रेस द्वारा युवाओ के रोजगार के लिए किए जा रहे शांतिपूर्ण धरना व प्रदर्शन पर भाजपाई गुंडों द्वारा हमला और धरना में शामिल महिलाओ के साथ की गई अभद्रता शर्मनाक है जिसकी मैं कड़े शब्दो मे निंदा करता हूँ| कांग्रेस का एक एक सिपाही इस अन्याय व अत्याचार के खिलाफ डटकर खड़ा है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here