मध्य प्रदेश के इन दो शहरों पर खास नजर, पुलिस विभाग अलर्ट

mp-two-cities-on-alert-mode-after-India-and-pak-surgical-strike-

भोपाल। पाकिस्तान पर भारत द्वारा की गई हवाई कार्रवाई के बाद से दोनों देशों के बीच हालात संवेदनशील बने हुए हैं। सीमावर्ती इलाकों सहित देश भर के अन्य राज्यों में सुरक्षा के मद्देनजर अलर्ट जारी किया है। जिसके बाद मध्य प्रदेश में भी पुलिस अलर्ट पर है। पाकिस्तान के इलाके में घुसकर की गई हवाई कार्रवाई में इस्तेमाल किए गए मिराज-2000 एयर क्राफ्ट ने प्रदेश के ग्वालियर के महाराजपुर एयरबेस से उड़ान भरी थी और जो बमबारी की गई वह बम भी जबलपुर की आयुध फैक्टरी में बने थे। जिसे देखते हुए दोनों शहरों पर खास नजर रखी जा रही है। 

गृह मंत्री बाला बच्चा ने प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर पुलिस को मुस्तैद रहने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि पुलिस पूरे प्रदेश में किसी भी स्थिति से निपटने के लिए मुस्तैद है। हम हर गतिविधि पर नजर बनाए हुए हैं। प्रदेश के संवेदनशील इलाकों पर खासतौर से पुलिस की निगाहें बनी हुई हैं। ऐसे इलाकों में पुलिस सतर्क है और पल पल की गतिविधियों पर नजर बनाए हुए है। इससे पहले डीजीपी ने भी प्रदेश के सभी पुलिस अफसरों को सचेत रहने के निर्देश दिए हैं। पुलिस मुख्यालय की ओर से सख्त निर्देश दिए गए हैं कि सोशल मीडिया पर खास नजर बनाए रखें कही भी माहौल खराब न हो इसके लिए पहले से सख्त कदम उठाएं। अफवाह फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाए। इंटेलिजेंस ब्यूरो ने पूरे प्रदेश में रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड औऱ सार्वजनिक स्थानों पर अतिरिक्त चौकसी रखने के लिए कहा है.

ग्वालियर में पुलिस की पैनी नजर 

ग्वालियर के महाराजपुरा एयर फ़ोर्स स्टेशन देश के संवेदनशील स्थानों में से एक है। यहीं से उड़े मिराज 2000 ने कल पाकिस्तान में तबाही मचाई थी। इस स्टेशन पर मिराज 2000 के अलावा सुखोई और मिग29 जैसे आधुनिक लड़ाकू विमान हैं। पाकिस्तान पर हुए हमले के बाद से एहतियातन महाराजपुरा क्षेत्र में चौकसी बढ़ा दी गई है। पुलिस हर आने जाने वाले व्यक्ति की गहराई से जांच कर रही है। ख़ुफ़िया विभाग से मिले इनपुट के बाद एयरबेस और सैन्य इलाके के बाहरी सर्किल में पुलिस ने कड़ा सुरक्षा घेरा बना लिया है। यहाँ से निकलने वाले वाहनों की बारीकी से जांच की जा रही है।  एयर फ़ोर्स स्टेशन के आसपास बसे गाँव के लोगों से भी अलर्ट रहने के लिए कहा गया है। 

संदिग्ध के फुटेज मिले, एक संदिग्ध दतिया में दिखा, तलाश में जुटी पुलिस 

भारत पाकिस्तान के बीच चल रहे तनाव के माहौल में ग्वालियर पुलिस सतर्क है और वो किसी भी सूचना की तस्दीक में कोताही नहीं बरत रही। ग्वालियर में बीती 25 फरवरी को टेम्पो में बैठकर शहर की वीडियो रिकॉर्डिंग करने वाले संदिग्ध व्यक्ति के फुटेज पुलिस ने चौराहों पर लगे CCTV कैमरों से निकाल लिए हैं। गौरतलब है कि हरे रंग का लंबा कुर्ता, ऊँचा सा सफ़ेद पजामा ,काली टोपी और जूते पहने एक संदिग्ध व्यक्ति टेम्पो में पड़ाव पेट्रोल पम्प स्टेशन से महाराज बाड़ा जाने के लिए बैठा था। बैठते ही उसने वीडियो रिकार्डिंग शुरू कर दी । जैसे ही ड्राइवर सत्यवीर सिंह का ध्यान इस तरफ गया तो उसने शख्स को टोका तो वो हुजरात के पास बिना पैसे दिए टेम्पो से कूदकर भाग गया। जिसके बाद हिन्दू जागरण मंच ने एसपी को ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की मांग की थी। वहीँ इसी हुलिए से मिलता जुलता एक संदिग्ध व्यक्ति आज दतिया रेलवे स्टेशन पर देखा गया है। दतिया पुलिस इस व्यक्ति के बारे में पता लगाने में जुट गई है।

गौरतलब है कि एमपी के दो शहर ग्वालियर और जबलपुर संवेदनशील हैं। ग्वालियर में एयरफोर्स का बेस है जहां से मिराज-2000 ने उड़ान भरी थी। वहीं, जबलपुर में आयुध फैक्टरी है जहां पाउंडर बमों का निर्माण किया जाता है। पाक में आतंकी ठिकानों पर यहीं से बने बमों का इस्तेमाल किया गया था। इसलिए पुलिस प्रशासन हाई अलर्ट पर है। 

महाराजपुरा एयरबेस के पास वीडियोग्राफी करने वाला संदिग्ध सीसीटीवी में कैद

मध्य प्रदेश के इन दो शहरों पर खास नजर, पुलिस विभाग अलर्ट