MP Weather : मप्र में आज मूसलाधार के आसार, इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। बंगाल की खाड़ी में हाल के दिनों में जो सिस्टम बना है, उसका असर पूरे प्रदेश मे दिखाई दे रहा है , यही कारण है कि सितबंर में मध्यप्रदेश समेत अन्य राज्यों में जमकर बारिश का दौर देखने को मिल रहा है । मौसम विभाग का कहना है कि 15और 16 सितंबर को प्रदेश भर में एक बार फिर से बारिश का दौर शुरू होगा।मौसम विभाग (Weather Department) ने आज मंगलवार को भी येलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों के लिए आधा दर्जन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट (Heavy rain alert) जारी कर करीब 10 संभागों के जिलों में कही कही गरज-चमक के साथ बिजली चमकने/गिरने की आशंका जताई है। वही तेज हवाओं के चलने की भी संभावना है।

मौसम विभाग की माने तो  15और 16 सितंबर को प्रदेश भर में एक बार फिर से बारिश का दौर शुरू होगा। 14 और 15 सितंबर को महाराष्ट्र तथा पश्चिमी मध्य प्रदेश में भारी बारिश हो सकती है। इस सिस्टम का प्रभाव उत्तरी मध्य प्रदेश और दिल्ली में 16 से 18 सितंबर के भी प्रभाव हो सकता है। 13 से 18 सितंबर के बीच मध्य भारत के राज्यों पर इसका प्रभाव रहेगा। मध्य भारत के महाराष्ट्र के मराठवाड़ा, मध्य महाराष्ट्र, कोंकण गोवा, मध्य प्रदेश, गुजरात और पूर्वी राजस्थान तक यह मॉनसून को सक्रिय करेगा।यही कारण है कि मानसून की विदाई में देरी से हो रही है।

मौसम विभाग की माने तो अति कम दबाव का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी में उत्तरी आंध्र प्रदेश तट के पास बना है। मानसून ट्रफ लाइन बीकानेर, जयपुर, सागर, दुर्ग, जगदलपुर हाेती हुई इस अति कम दबाव के क्षेत्र तक बनी है। पूर्वाेत्तर अरब सागर, पूर्वी विदर्भ और दक्षिण पश्चिमी उत्तर प्रदेश के ऊपर चक्रवात बने हैं।आफ साेर ट्रफ दक्षिणी गुजरात तट से उत्तरी कर्नाटक तट तक बनी है।जिसके कारण बारिश हो रही है।प्रदेश भर में बीते सोमवार को ग्वालियर सबसे ज्यादा गर्म रहा। ग्वालियर में तापमान 37.7 डिग्री के पार पहुंचा तो रीवा और दमोह में 36.2 डिग्री तापमान रिकॉर्ड हुआ। उमरिया में 35.9 डिग्री, खजुराहो 35.4 डिग्री तापमान दर्ज हुआ। सतना, सिवनी, सीधी, टीकमगढ़ में तापमान 35.2 डिग्री के पार पहुंचा।

इन जिलों में भारी बारिश की चेतावनी
रायसेन, धार, बैतूल, खंडवा, खरगोन, हरदा

इन 10 संभागों के जिलों गरज-चमक के साथ बारिश और बिजली

मौसम विभाग ने भोपाल, होशंगाबाद, इंदौर, उज्जैन, शहडोल, जबलपुर, सागर, रीवा, ग्वालियर-चंबल संभागों के जिलो में गरज चमक के साथ बारिश की संभावना है।वही उज्जैन, देवास, नीमच, गुना,मंदसौर, शाजापुर, आगर, रतलाम में बारिश के आसार है। मौसम विभाग ने इसके लिए यलो अलर्ट जारी किया है।

क्या कहता है भारतीय मौसम का अनुमान

अगले 24 घंटों के दौरान दक्षिणी तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम और मेघालय में मध्यम से भारी बारिश की गतिविधियां बरकरार रहने की संभावना है। दक्षिणी कोंकण गोवा, तटीय कर्नाटक, पूर्वी और उत्तर-पूर्वी बिहार, विदर्भ, मराठवाडा, अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह तथा अरुणाचल प्रदेश में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश के बीच एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा भी हो सकती है।वही केरल, तमिलनाडु, रायलसीमा, मध्य प्रदेश, गुजरात, छत्तीसगढ़, ओडिशा, गंगीय पश्चिम बंगाल और पूर्वी उत्तर प्रदेश में कुछ स्थानों पर हल्की बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर मध्यम बौछारें गिर सकती हैं

इन जिलों को आपदाग्रस्त घोषित करेगी सरकार

मध्यप्रदेश (MP) में बाढ़ से मची तबाही के बाद प्रदेश की शिवराज सरकार (Shivraj Sarkar) लगातार किसानों और गरीबों की भरपाई में जुटी हुई है।लगातार सरकार द्वारा राहत को लेकर बड़े फैसले लिए जा रहे है।अब किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल (Kamal Patel) ने निर्देश दिए है कि जिन जिलों में अति-वृष्टि या बाढ़ से फसलों को 50 प्रतिशत से अधिक क्षति पहुँची है, उन जिलों को आपदाग्रस्त (Distressed district) कराये जाने के लिये समुचित आवश्यक कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। उन्होंने जिलों में फसलों को हुए नुकसान की जानकारी प्राप्त कर वास्तविक आंकलन के निर्देश दिये।

Rainfall dt 15.09.2020
(Past 24 hours)
Ujjain 52.4
Satna 17.8
Chindwara 13.4
Bhopal 4.4
Sagar 0.2
Damoh 6.0
Guna trace
Pachmarhi 2.6
Betul 0.6
Dhar 0.2
Indore 1.2
Ratlam 15.0
Shajapur trace

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here