मौसम विभाग का अलर्ट, अगले 24 घंटे मप्र के इन जिलों में हो सकती है भारी बारिश

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| मध्य प्रदेश (MadhyaPradesh) में मानसून की विदाई से पहले एक बार फिर जोरदार बारिश का सिलसिला जारी है| बुधवार को प्रदेश के अनेकों हिस्सों में बारिश हुई है| वहीं मौसम विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटों में कई जिलों में भारी बारिश (Heavy Rain Alert) की संभावना जताई है|

मौसम केंद्र भोपाल के मुताबिक रीवा संभाग के जिलों में तथा अनूपपुर, शहडोल, पन्ना एवं छतरपुर जिला में भारी वर्षा की चेतावनी जारी की गई है| वहीं रीवा, शहडोल, सागर, होशंगाबाद एवं भोपाल संभाग के जिलों में तथा धार, रतलाम, देवास, जबलपुर एवं कटनी जिलों में गरज चमक के साथ बिजली चमकने या गिरने की संभावना जताई गई है| इसके अलावा रीवा एवं सागर संभागों के जिलों में तथा शहडोल, जबलपुर, इंदौर उज्जैन, होशंगाबाद एवं भोपाल संभागों के जिलों में कही कहीं गरज चमक के साथ बौछारें पढ़ सकती हैं|

पिछले 24 घंटों में कहां कहां हुई बारिश
पिछले 24 घंटों के दौरान संपूर्ण प्रदेश में मानसून प्रबल रहा | शहडोल, जबलपुर, सागर, रीवा, इंदौर, उज्जैन होशंगाबाद एवं भोपाल संभागों के जिलों में अधिकांश स्थानों पर तथा ग्वालियर संभाग के जिलों में अनेक स्थानों पर वर्षा दर्ज की गई| तथा चंबल संभाग के जिलों का मौसम मुख्यतः शुष्क रहा|

उज्जैन में भारी बारिश से शिप्रा उफान पर, मंदिर डूबे
लगातार बारिश से कई जिलों में जलभराव की स्थिति बन गई है| उज्जैन में क्षिप्रा का जल स्तर बढ़ने लगा और सुबह नदी के घाटों पर बने मंदिर डूबे नजर आए। छोटे पुल के ऊपर पानी पहुंच गया था। रामघाट पर बना आरती द्वार आधा डूब गया। निचली बस्ती के रहवासी रातभर परेशान रहे। बुधवार को शहर सहित पूरे अंचल में झमाझम बारिश की शुरुआत हुई, जो गुरुवार की सुबह तक जारी रही। बारिश इतनी तेज रही कि, शिप्रा नदी एक बार फिर उफान पर आ गई, जिसके कारण नदी का पानी बड़े पुल की सड़क से गुजरने लगा। रामघाट के सभी मंदिर शिखर तक डूब गए|

मौसम विभाग का अलर्ट, अगले 24 घंटे मप्र के इन जिलों में हो सकती है भारी बारिश