MP Weather : दिसंबर में बदलेगा मौसम, शीतलहर-ठिठुरन का अलर्ट, लुढ़का पारा, जानें भोपाल-इंदौर पर पूर्वानुमान

MP Weather : राज्य में लगातार मौसम में बदलाव देखने को मिल रहा है। नवंबर के आखिरी दिन भी आज एक तरफ जहां कड़ाके की धूप रहेगी। शाम होते ही तापमान में गिरावट का दौर देखने को मिलेगा। बदलते हवा के रुख के कारण तापमान में उतार-चढ़ाव जारी है। मौसम विभाग के मुताबिक 28 नवंबर को पूर्वानुमान जारी किया गया है। जिसमें 4 दिन तक शीतलहर चलने और कोहरे की आशंका जताई गई है। शहर के अलग-अलग इलाकों में ठंड का अलर्ट जारी किया गया है।

पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव

मंगलवार की रात राजधानी भोपाल के तापमान में वृद्धि देखने को मिली है। सप्ताह के अंत तक तापमान में गिरावट तेजी से देखी जा सकती है। हालांकि मध्यप्रदेश में फिलहाल कोई मौसम प्रणाली एक्टिव नहीं है। इसके अलावा बंगाल की खाड़ी सहित उत्तर और पश्चिम भारत से भी किसी भी तरह की नमी नहीं देखी जा रही है। जिसकी वजह से तापमान में वृद्धि रिकॉर्ड की गई है। हिमालय क्षेत्र पर पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण यह वृद्धि देखने को मिली है।

भोपाल में दिन का तापमान 27.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है जबकि रात का तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक बढ़ा है। उत्तरी हवा के कारण कुछ हिस्से में हवा तेज गति से चल रही है। पचमढ़ी में तापमान 6.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया जबकि रायसेन और नौगांव में सबसे कम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है।

मध्यप्रदेश पर पहाड़ों की चोटियों पर हिमपात का असर

पूर्वानुमान जताते हुए मौसम वैज्ञानिक ने कहा कि 6 दिसंबर तक मध्य प्रदेश का मौसम शुष्क रहेगा। उत्तर पश्चिम से उसको ठंडी हवा का प्रवाह जारी रहेगा 1 दिसंबर के आसपास पश्चिमी हिमालय की तरफ एक पश्चिमी विक्षोभ निर्मित होगा। मौसम प्रणाली के बनने से तापमान की प्रणाली और कमजोर होगी। उत्तर भारत में पहाड़ों की चोटियों पर हिमपात का असर मध्यप्रदेश पर दिखेगा।

ग्वालियर चंबल पर असर

बर्फबारी का असर ग्वालियर चंबल इलाके पर अधिक देखने को मिल रहा है। लगातार तापमान में गिरावट जारी है। रात का तापमान 8 डिग्री सेल्सियस पर उसको बना हुआ है। मौसम विभाग द्वारा 5 दिसंबर से ग्वालियर चंबल ठंड में कड़ाके की ठंड का पूर्वानुमान जारी किया गया है। दिन में धूप से लोगों को राहत मिलेगी। हालांकि 5 दिसंबर के बाद दिन के धूप पर कोहरे का प्रभाव दिखेगा।

5 दिसंबर से बढ़ेगा तापमान

5 दिसंबर के बाद तापमान में और अधिक गिरावट देखने को मिलेगी। कड़ाके की ठंड पड़ने का पूर्वानुमान जारी किया गया है। 22 साल में दूसरी बार नवंबर में सबसे सर्द रात शनिवार को रिकॉर्ड की गई है। जब राजधानी भोपाल में तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे पहुंच गया था। हालांकि इससे पहले 2009 में नवंबर के महीने में रात का तापमान 9.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था।