MPPSC का फाइनल रिजल्ट जारी, मंडला के हर्षल चौधरी बने टॉपर

MPPSC's-final-result-releases

भोपाल।

मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग ने एमपीपीएससी का फाइनल रिजल्ट जारी कर दिया है। मंडला के हर्शल चौधरी ने प्रथम स्‍थान प्राप्‍त किया है।  हर्षल चौधरी को 1023 अंक मिले है। वही भोपाल की रचना शर्मा 976 अंक से दूसरे नंबर पर और राजनंदिनी शर्मा 975 अंकों के साथ तीसरे नंबर पर रहीं।इसमें 298 उम्मीदवारों का चयन हुआ है और इस बार टॉप टेन में 10 में 6 महिलाओं ने जगह बनाई है। 

      शीर्ष स्थान हासिल करने वाले हर्षल शर्मा इंजीनियर हैं। वे मंडला के रहने वाले है। रायपुर के नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से बीटेक करने वाले हर्षल के पिता बिजनेसमैन हैं।इसके पहले 2013 में कोरिया हसदेव क्षेत्र में कोल फील्ड में हर्शल चौधरी का असिस्टेंट मैनेजर के पोस्ट पर पोस्टिंग हुई थी तब से ही वह कोरिया हसदेव के एस इ सी एल हसदेव क्षेत्र में ही माइनिंग इंजीनियर के पोस्ट पर काम कर रहे थे और यही से एमपीपीएससी की तैयारी भी कर रहे थे। पूरे परिवार में खुशी की लहर दौड़ गई है। सुबह से ही लोगों का हुजूम हर्शल चौधरी के घर में लगा हुआ है।हर्शल की ख्वाहिश है कि वे डिप्टी कलेक्टर बनें। आगे वे यूपीएससी की तैयारी  करेंगें। इसका पूरा श्रेय उन्होंने अपने माता पिता और अपनी टीचर को दिया है।

      बताते चले कि एमपी पीएससी राज्य सेवा मुख्य परीक्षा पिछले साल जुलाई माह में हुई थी। अलग-अलग वजह से  परीक्षा से पहले 365 अभ्यर्थियों को बाहर कर दिया गया था। ये वे छात्र हैं जो रिजल्ट में आपत्ति के बाद हुए बदलाव के चलते कट ऑफ सूची में पीछे हो गए थे। दरअसल 18 फरवरी को पीएससी की राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा हुई थी। उसमें से चयनित हुए अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा में शामिल होने का माैका मिला था। मुख्य परीक्षा पिछले साल ही जुलाई में हुई थी।इसमें कुल 298 पदों के लिए 31 दिसंबर से 23 जनवरी तक इंटरव्यू आयोजित किया गया था।इसमें कुल 895 उम्मीदवार शामिल हुए थे।

टॉप-10 अभ्यर्थी और उनके अंक 

हर्षल चौधरी 1023, रचना शर्मा 976, राजनंदिनी 975, मयंक तिवारी 974, रवींद्र परमार 967, किरण अंजाना 963, शिवाली सिंह 956, भाग्या त्रिपाठी 954, कृतिका भीमावद 954, लक्ष्मीनारायण गर्ग 952 अंक।