पहली बार ब्लैक सिगरेट पर कार्रवाई, निगम अमले ने की जप्त

भोपाल। ब्लैक सिगरेट स्वास्थ्य के लिए खतरनाक है। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मन की बात कार्यक्रम में देशवासियों को इसके दुष्प्रभाव के बारे में बता चुके हैं। मंगलवार को नगर निगम ने पहली बार ई-सिगरेट के खिलाफ कार्रवाई करते हुए दुकानदार से जप्त की। वहीं दोबारा न बेचने और लोगों को भी इस बारे में समझाईश देने के लिए कहा गया। वहीं अलग-अलग जोन क्षेत्रों में स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने गंदगी एवं अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ मुहिम चलाई। जबकि शहर में लगे अवैध होर्डिंग भी स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने उतारे।

मंगलवार को जोन 16 अंतर्गत आने वाले वार्ड 72 में सहायक आयुक्त मनोज मौर्य और प्रभारी सहायक स्वास्थ्य अधिकारी दिनेश पाल ने पटेल नगर में साफ-सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया। इस दौरान सुलभ शौचालय में गंदगी मिलने पर 1 हजार रूपए की चालानी कार्रवाई की। वहीं पटेल नगर में पॉलीथिन के खिलाफ अभियान के दौरान दुकानदरों के पास ब्लैक सिगरेट मिलने पर जप्ती की कार्रवाई की गई। साथ ही दुकानदारों को इसके दुष्प्रभाव के बारे में बताया गया। साथ ही मार्केट के व्यापारियों को अपने आस-आस सफाई रखने को कहा। इसी प्रकार जोन क्षेत्र में अवैध होर्डिंग नजर आने पर उन्हें उतारने की कार्रवाई की गई। जोन में कुल 20 हजार रूपए का स्पॉट फाईन अलग-अलग प्रकरणों में लगाया गया।

जोन 17 में 22 हजार का लगा स्पॉट फाईन

मंगलवार को जोन 17 के अंतर्गत आने वाले वार्ड क्षेत्रों में गंदगी और अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाया गया। जोन की स्वास्थ्य विभाग की टीम ने 22 प्रकरण में 22 हजार रूपए का स्पॉट फाईन किया।

तिब्बत संघ ने ली सफाई की शपथ

जोन 4 के अंतर्गत आने वाले 18 स्थित संगम सिनेमा के सामने ऊनी वस्त्र बेचने आए तिब्बत संघ के सभी व्यापारियों ने सफाई की शपथ ली। इस दौरान संघ के व्यापारियों ने कहा कि हम भी सूखे और गीले कचरे के लिए अलग-अलग डस्टबिन रखेंगे।