आखिर किसके होंगे नारायण !

भोपाल। बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने रविवार को सीएम कमलनाथ से मुलाकात के बाद बड़ा बयान दिया है। उन्होने कहा है कि सरकार बहुमत में है।

नारायण त्रिपाठी ने कहा कि उनकी सीएम से दो मिनिट की मुलाकात हुई है और वो यहां मैहर को जिला बनाने की मांग को लेकर सीएम से मिलने आए थे, साथ ही उन्होने विंध्य प्रदेश की मांग भी रखी हैै। वहीं राज्यसभा की वोटिंग पर वो बोले कि चुनाव आने दीजिए। उन्होने कहा कि सीएम ने उनकी मांग को लेकर आश्वासन दिया है। दो दिन पहले भी उनके इस्तीफे की खबर आई थी लेकिन मुख्यमंत्री निवास से बाहर आकर कहा था कि उन्होंने कोई इस्तीफा नहीं दिया है। रविवार को भी उन्होंने कहा कि वह विंध्य प्रदेश के बारे में शासकीय संकल्प और मैहर को जिला बनाने के लिए मुख्यमंत्री से मिलले आए हैं। उनसे यह पूछे जाने पर कि क्या सरकार बहुमत में है तो उन्होंने उल्टे पत्रकारों से कहा कि क्या आपको नहीं लगता कि सरकार बहुमत में है। लेकिन इस सवाल का जवाब कि आप किसकी तरफ है उन्होंने कहा कि जब बहुमत साबित करने का मौका आएगा तब इसका जवाब मिल जाएगा। पहले सपा फिर कांग्रेस और फिर बीजेपी के टिकिट पर चुने गये नारायण किसके होंगे, ये फिलहाल समझ से परे है।