नरोत्तम का आरोप, कमलनाथ सरकार ने किसानो के साथ ये क्या कर डाला

Narottam-alleges-what-did-Kamalnath-government-do-with-the-farmers-

भोपाल| मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव में सबसे बड़ा मुद्दा बना कर्जमाफी अब लोकसभा चुनाव में भी सुर्ख़ियों में है| भाजपा ने जहां किसानों के साथ धोखे का आरोप लगाया है तो वहीं कांग्रेस इसके सबूत दे रही है| पूर्व मंत्री और भाजपा नेता डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने ऐलान किया कि एक भी किसान का दो लाख रुपए का कर्ज माफ हुआ हो तो इनाम ले जाए| इस पर कांग्रेस नेता उन्हें दो लाख रुपए तक की कर्जमाफी वाले किसानों की सूची सौंपने पहुंच गए। अब इस मामले में नरोत्तम मिश्रा ने भी बड़ा खुलासा किया है| उनका कहना है कि कमलनाथ सरकार जिन किसानों के दावे कर रही है उनके खाते एनपीए मे डाल दिये गए हैं, वे कभी कर्ज नही ले पाएंगे| 

कांग्रेस और कमलनाथ सरकार पर बड़ा हमला बोलते हुए पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कांग्रेस पार्टी को सबूत मांगने और देने का खुमार चढ़ा है। पुलवामा अटेक का सबूत मांगते है सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांगते है। कल कांग्रेस के कुछ लोग आये थे और उन्होंने जो सूची मुझे दी मेने उन लोगो में से कुछ से मैने आज बात की | जिनमे से एक भी व्यक्ति पर दो लाख का कर्जा था ही नही। मिश्रा ने कहा किसी भी किसान को अभी तक NOC नही दी गई है । 2 लाख माफी के संदेश भेज दिए गए लेकिन उस किसान पर कर्जा ही नहीं था। कांग्रेस के पास अगर बैंक का प्रमाण पत्र हो  NO DUES का तो मैं दो लाख दूंगा, मैं अपनी बात पर अडिग हूं।

पूर्व मंत्री ने कहा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि अगर 10 दिन में 2 लाख का कर्ज माफ़ नही होगा तो मुख्य्मंत्री बदल देंगे,  86 दिन हो गए है। कोई भी किसान को अभी तक NOC नही दी गई है उन्होंने मीडिया के माध्यम से अपील कि निवेदन है कि 56 हजार करोड़ के लोन 3 हजार करोड़ में कैसे माफ होंगे यह बताएं। किस किस बैंक को इन्होंने कितनी राशि दी है। यह जनता को बताये। एक अप्रैल आने वाला है। किसान को खाद बीज नही मिलेंगे क्योंकि कर्ज माफ ही नही हुआ।

गौरतलब है कि नरोत्तम मिश्रा ने कर्जमाफी को लेकर घोसना की थी कि अगर किसी किसान का दो लाख का कर्ज माफ़ हुआ है तो वो उनसे दो लाख का इनाम ले जाए| इस पर बिधवार को पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा, मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता, प्रवक्ता दुर्गेश शर्मा व रवि सक्सेना और अनुसूचित जनजाति विभाग के प्रदेश अध्यक्ष अजय शाह के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं का प्रतिनिधिमंडल डॉ. मिश्रा के निवास पहुंच था| यहां उन्हें कमलनाथ सरकार द्वारा एक लाख 90 हजार से लेकर दो लाख तक की कर्जमाफी से लाभांवित किसानों की प्रमाणित सूची दी। डॉ. नरोत्तम मिश्रा को कांग्रेस नेताओं ने सूची सौंपते हुए कहा कि अब वे अपने वादे के अनुरूप दो-दो लाख रुपए दें। वहीं अब मिश्रा ने नया खुलासा किया है और सरकार पर आरोप लगाया है| 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here