VIDEO : गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का बड़ा ऐलान- पुलिस में इनकी होगी सीधी भर्ती

नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि गृह विभाग ने मप्र पुलिस (MP Police) में हर साल 60 पदों पर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पदक विजेता खिलाड़ियों की सीधी भर्ती करने का निर्णय लिया है।

नरोत्तम मिश्रा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Narottam Mishra) ने बड़ा ऐलान किया है। मिश्रा ने कहा है कि 10 एसआई (SI) और  50 पुलिस कॉन्सटेबल (Police constable) की हर साल खेल कोटे (Sports quota से भर्ती का प्रस्ताव बनाया गया है। कैबिनेट बैठक (Cabinet Meeting) में इस पर जल्द मोहर लगेगी। शिवराज सरकार (Shivraj Government) द्वारा खेलो को प्रोत्साहन देने की योजना बनाई गई है।

यह भी पढ़े… MP News: अब ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना हुआ और मुश्किल, परिवहन आयुक्त ने दिए निर्देश

नरोत्तम मिश्रा ने आज मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि मध्य प्रदेश का गृह विभाग (Home department) प्रतिवर्ष बगैर परीक्षा के राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर (National and international level) पर पदक जीतने वाले खिलाड़ियों को 60 पदों पर भर्ती करेगा। इसमें कॉन्स्टेबल से सब इंस्पेक्टर के पद पर पर भर्ती होगी। इनका चयन एक समिति के द्वारा किया जाएगा इसमें खेल विभाग (Sports department) से जुड़े वरिष्ठ लोग/ अधिकारी मौजूद रहेंगे ।

नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट कर लिखा है कि गृह विभाग (Home department) ने मप्र पुलिस (MP Police) में हर साल 60 पदों पर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पदक विजेता खिलाड़ियों (National and international medal winning players) की सीधी भर्ती करने का निर्णय लिया है। लिखित परीक्षा (Written exam) के बगैर होने वाली यह भर्ती कांस्टेबल से सब इंस्पेक्टर पद के लिए होगी। चयन समिति में खेल विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल होंगे।

नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट कर लिखा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के आभामंडल के चलते #TMC के नेता बीजेपी बंगाल में शामिल हो रहे हैं। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Chief Minister Mamata Banerjee) की नीतियां भी पार्टी में भगदड़ मचने का बड़ा कारण है। आज #Bengal में माफियाराज हावी है और लोग अपने को असुरक्षित महसूस कर परिवर्तन चाह रहे हैं।कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को फिर से अध्यक्ष बनाने के लिए प्रस्ताव का पाखंड क्यों कर रही है? जगजाहिर है कि कांग्रेस का अगला अध्यक्ष कौन बनेगा?